सेक्स कैसे करें, सेक्स करने का तरीका Sex Kaise Karen or Tarika || Sex Education

By | July 16, 2020

सेक्स कैसे करें Sex Kaise Karen, Sex Education

जब लड़के लड़कियां किशोरावस्था में पहुंचते हैं तो उनके शरीर के अंगों में बदलाव आना शुरू हो जाता है । यह बदलाव उन्हें कामोत्तेजना एवं कामवासना के इशारे करने लगता है । ऐसा पहली बार होता है जब लड़के लड़कियां आपस में एक दूसरे की ओर आकर्षित होने लगते हैं ।

उनके मन में एक दूसरे की शारीरिक बनावट और शारीरिक अंगों को लेकर उत्सुकता पैदा होने लगती है । खासकर वे दोनों एक दूसरे के गुप्त अंगो के बारे में सोचते हैं और मन ही मन सोच सोच कर रोमांचित होते रहते हैं ।

ऐसे समय में उनके मन में सेक्स करने का विचार भी पैदा होता है । ऐसे नवयुवकों और नवयुवतियों को यह मालूम नहीं होता है कि सेक्स कैसे करना चाहिए और सेक्स करने का क्या तरीका होता है ।

बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो किशोरावस्था को पार कर चुके होते हैं लेकिन उसके बावजूद भी उन्हें सही से ज्ञान नहीं होता है कि सेक्स कैसे करना चाहिए । इसलिए हमने ऐसे पाठकों की रुचि को ध्यान में रखते हुए इस लेख में सेक्स कैसे करना चाहिए इसके बारे में पूरी जानकारी दी है ।

सेक्स कितने प्रकार का होता है Sex Kitne prakar ka hota hai

सबसे पहले तो यह जानना जरूरी है सेक्स कितने प्रकार का होता है, उसके बाद हम जानेंगे कि सेक्स कैसे करते हैं । सेक्स के निम्न प्रकार होते हैं ।

  1. योनी सेक्स
  2. मुख सेक्स या मुखमैथुन
  3. ओरल सेक्स
  4. गुदामैथुन (एनल सेक्स)
  5. फोन सेक्स

योनि सेक्स (वेजाइनल इंटरकोर्स) क्या है

योनि सेक्स सेक्स करने की सबसे मुख्य विधि है । योनि सेक्स में लड़का और लड़की एक दूसरे के गुप्त अंगो के माध्यम से सेक्स करते हैं । लड़का अपने लिंग को महिला की योनि में प्रवेश करा देता है तथा सेक्स करता है ।

योनि सेक्स के दौरान महिला पार्टनर को थोड़ी तकलीफ भी हो सकती है, क्योंकि महिला की योनि शुरुआत में बिल्कुल टाइट होती है । इसलिए जब लिंग योनि में प्रवेश करता है तो महिला को दर्द हो सकता है, ऐसे में सावधानी रखने की जरूरत है । इस लेख में आगे चलकर हम योनि सेक्स करने का तरीका बताएंगे ।

मुख सेक्स या माउथ सेक्स

इस सेक्स में लड़की लड़के के लिंग को मुंह में लेकर चूसती है तथा अपने पार्टनर को चर्मसुख तक ले जाने का प्रयास करती है ।

ओरल सेक्स

इस सेक्स में लड़का लड़की आपस में सेक्स की केवल बातें करते हैं और सेक्स की बातें करके ही मजा लेते हैं ।

एनल सेक्स

एनल सेक्स में लड़का लड़की की गुदा (एनस) में लिंग प्रवेश कराता है तथा सेक्स करता है । एनल सेक्स में भी लड़की को या महिला पार्टनर को बहुत ज्यादा तकलीफ होती है क्योंकि जब लिंग गुदा में प्रवेश करता है तो महिला को शुरू शुरू में दर्द होता है ।

फोन सेक्स

सबसे अंतिम सेक्स है फोन सेक्स । फोन सेक्स ओरल सेक्स की तरह ही होता है । लड़का लड़की आपस में फोन पर ही सेक्स की बातें करते हैं । सभी प्रकार के सेक्स में वेजिना सेक्स सही माना जाता है ।

वेजिना सेक्स मजे लेने के लिए एवं बच्चे पैदा करने के लिए किया जाता है, जबकि बाकी सभी में बच्चे पैदा नहीं होते हैं केवल मानसिक या शारीरिक सुख प्राप्त होता है ।

सेक्स करने का तरीका

अब हम सबसे इंपोर्टेंट टॉपिक पर आ जाते हैं और वह है सेक्स करने का तरीका या सेक्स कैसे करें । सेक्स करने के लिए महिला एवं पुरुष को एकदम ही सेक्स शुरू नहीं कर देना चाहिए, बल्कि सेक्स शुरू करने से पहले एक दूसरे की मानसिक स्थिति को समझना चाहिए ।

यदि दोनों में से किसी एक की भी तबीयत खराब हो या कोई एक पार्टनर शारीरिक व मानसिक रूप से सेक्स के लिए तैयार ना हो तो सेक्स बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए । सेक्स करने के लिए दोनों का ही शारीरिक और मानसिक रूप से तैयार रहना आवश्यक होता है । तो आइए जानते हैं सेक्स शुरू करने के लिए किन किन बातों का ध्यान रखना जरूरी होता है ।

सेक्स करने की तरीकों में शामिल है फॉर प्ले करना

सेक्स शुरू करने से पहले फोरप्ले करना बहुत जरूरी होता है । तो आइए पहले जान लेते हैं कि फॉर होता क्या है ।

जब महिला पुरुष सेक्स शुरू करते हैं तो उस समय दोनों के ही सेक्सुअल पार्ट्स नॉरमल कंडीशन में होते हैं यानी उन्हें कोई तनाव नहीं होता है । लेकिन जब दोनों पार्टनर एक दूसरे के कपड़े उतारते हैं और निर्वस्त्र हो जाते हैं तो धीरे धीरे दोनों के शरीर में रोमांच पैदा होने लगता है ।

फोरप्ले करते समय सबसे पहले पुरुष को अपनी महिला पार्टनर के कपड़े धीरे-धीरे करके उतारने चाहिए तथा उसके गुप्तांगों जैसे योनि, स्तनों एवं नितंबों को धीरे धीरे सहलाना चाहिए एवं जीब के द्वारा चाटना चाहिए ।

इससे महिला पार्टनर धीरे-धीरे उत्तेजित हो जाती है और महिला की योनि से एक प्रकार का चिकना पदार्थ निकलने लगता है जिसे सेक्स लुब्रिकेंट कहा जाता है । यह योनि को चिकना कर देता है जिससे लिंग योनि में आसानी से प्रवेश कर सके ।

इसी प्रकार फोरप्ले के दौरान महिला को भी अपने साथी के लिंग को हाथ से पकड़ कर हस्तमैथुन करना चाहिए या मुंह में डालकर चूसना चाहिए, जिससे पुरुष को उत्तेजना का अनुभव होगा ओर वह रोमांचित हो जाए ।

जब पुरुष का लिंग बिल्कुल तनाव की स्थिति में आ जाए और महिला की योनि में सेक्स लुब्रिकेंट आ जाए तो इस स्थिति में दोनों को सेक्स शुरू करना चाहिए । इसे है फॉरप्ले करना कहा जाता है ।

सेक्स करने से पहले कंडोम लगाएं या ना लगाएं

एक बहुत ही इंपोर्टेंट प्रश्न उठता है कि सेक्स करने से पहले कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं या कंडोम का इस्तेमाल सेक्स में मिलने वाले आनंद को बढ़ाता है या घटाता है । तो हम आपको बता दें कि यदि पुरुष सेक्स के दौरान कंडोम का इस्तेमाल करता है तो उसको अपने लिंग में संवेदना की कमी महसूस होगी ।

पुरुष को योनि मैथुन का पूर्णानंद नहीं प्राप्त हो पाएगा, इसलिए शुरू शुरू में कंडोम का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए । लेकिन जब पुरुष को लगे कि अब कुछ ही समय में वह स्खलित हो जाएगा तथा उसका वीर्यपात हो जाएगा तो पुरुष को कंडोम का प्रयोग कर लेना चाहिए । ऐसा करने से महिला एवं पुरुष अनचाहे गर्भ से भी बच जाएंगे और दोनों को आनंद भी आएगा ।

सेक्स करने के लिए जरूरी है सही सेक्स पोजिशन को अपनाना

बेहतरीन सेक्स के लिए और अपने सेक्स को यादगार बनाने के लिए अलग-अलग सेक्स पोजिशन को अपनाना बहुत जरूरी होता है ।

ज्यादातर कपल्स ट्रेडिशनल तरीके से ही सेक्स करते हैं, जिसमें महिला पीठ के बल नीचे लेट जाती है तथा पुरुष महिला की टांगों के बीच में से लिंग को योनि में प्रवेश कराता है तथा महिला की दोनों टांगों को अपने कंधों पर रख लेता है । इस पोजीशन को मिशनरी पोजीशन कहा जाता है ।

इसके अलावा और भी बहुत सारी सेक्स पोजीशन है जैसे डॉगी स्टाइलसेक्स पोजीशन । इस पोजीशन में महिला डॉग की तरह अपने घुटने मोड़कर अपने नितंबों को ऊपर उठा लेती है तथा पुरुष नितंबों के पीछे से योनि में लिंग को प्रवेश कराता है तथा दोनों सेक्स का आनंद लेते हैं ।

इसके अलावा भी बहुत सारी सेक्स पोजीशन है जैसे स्टैंडिंग सेक्स पोजिशन या साइड पोजीशन इत्यादि । अलग-अलग कपल्स को अलग-अलग पोजीशन में सेक्स करने में मजा आता है । सेक्स करते समय सबको अपने पार्टनर की मर्जी के अनुसार सेक्स पोजीशन को अपनाना चाहिए ।

कभी-कभी किसी सेक्स पोजीशन में महिला पार्टनर को थोड़ी समस्या हो सकती है या महिला पार्टनर अपने पुरुष साथी का सही प्रकार से सहयोग नहीं कर पाती है, इस स्थिति में पुरुष को नाराज नहीं होना चाहिए बल्कि समझदारी दिखाते हुए किसी दूसरी आसान सी सेक्स पोजीशन को चुनना चाहिए । जिसमें दोनों कंफर्टेबल महसूस करें ।

पोजीशन का मेन ऑब्जेक्टिव दोनों को एक दूसरे को क्लाइमेट तक पहुंचाना होता है क्योंकि कभी-कभी एक ही तरीके से सेक्स करते हुए क्लाइमेक्स में मजा नहीं आता है, लेकिन सेक्स पोजीशन बदलने पर क्लाइमैक्स का मजा पहले से कई गुना बढ़ जाता है । इसलिए सेक्स पोजीशन के लिए नए नए एक्सपेरिमेंट करने से सेक्स का रोमांच काफी हद तक बढ़ जाता है ।

लिंग को योनि में प्रवेश कैसे कराएं

यह बहुत ही इंटरेस्टिंग क्वेश्चन है कि लिंग को अपनी महिला पार्टनर की योनि में कैसे प्रवेश कराया जाए । जब आप फोरप्ले करते हैं तो फोरप्ले करने के बाद कुछ ही देर में महिला की योनि से सेक्स लुब्रिकेंट निकलना शुरू हो जाता है और महिला की योनि बिल्कुल चिकनी और थोड़ी ढीली हो जाती है ।

इस स्थिति में आप अपने लिंग को महिला की योनि के ऊपर रखें तथा धीरे-धीरे लिंग को योनि में प्रवेश कराने की कोशिश करें । यदि संभव हो सके तो अपने लिंग पर कोई चिकना पदार्थ जैसे किसी तेल की मालिश भी कर सकते हैं ताकि लिंग योनि में आसानी से प्रवेश कर जाए ।

लिंग को योनि में प्रवेश करते समय जबरदस्ती ना करें क्योंकि योनि महिला का सबसे सेंसेटिव पार्ट होता है, इसलिए इस पार्ट के साथ जोर आजमाइश नहीं करनी चाहिए । लिंग को योनि के मुख पर रखकर धीरे-धीरे लिंग को योनि के अंदर प्रवेश करते जाएं और जब लिंग पूरी तरह योनि में प्रवेश कर जाए तो आप आघातों को थोड़ा तेज कर सकते हैं, जिससे दोनों को पूरा मजा आना शुरू हो जाए ।

बहुत से ऐसे आसन हैं जिनमें महिला पुरुष के ऊपर रहती है तथा महिला खुद ही अपने हाथ से पकड़ कर लिंग को अपनी योनि में प्रवेश कराने में पुरुष की मदद करती हैं । शुरुआत में महिला और पुरुष एक दूसरे से शर्माते हैं और उनमें झिझक होती है, लेकिन कुछ समय बाद जब वह कई बार सेक्स कर लेते हैं तो फिर लिंग को योनि में प्रवेश कराने में ज्यादा समस्या नहीं आती है । पुरुष को इतना अभ्यास हो जाता है कि वह बड़ी आसानी से महिला की योनि में लिंग को प्रवेश करा देता है, यही स्थिति महिलाओं की भी होती है ।

सेक्स करते समय किन बातों का ध्यान रखें

अगर आप चाहते हैं कि आप की महिला पार्टनर या आपका पुरुष पार्टनर आपके साथ हर बार सेक्स करते समय बराबर इंटरेस्ट ले और आप को सेक्स में सपोर्ट करें तो आपको कुछ विशेष बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है ।

अगर आप इन बातों का ध्यान नहीं रखेंगे तो धीरे-धीरे आपकी सेक्स लाइफ बोर होती चली जाएगी और सेक्स करने में जो रोमांच होता है वह रोमांच कहीं ना कहीं खो जाएगा । तो आइए जानते हैं वह कौन-कौन सी बातें हैं जिनका आप को सेक्स करते समय ध्यान रखना जरूरी है ।

अपने पार्टनर के मूड का ध्यान रखें

सेक्स करने से पहले यह जानना जरूरी है कि आपका पार्टनर आपके साथ सेक्स करने के लिए कितना राजी हैं । कई बार दोनों कपल्स में से एक सेक्स करने के लिए इंटरेस्टेड होता है जबकि दूसरे का सेक्स करने का बिल्कुल भी मन नहीं होता है ।

अगर ऐसी कंडीशन में एक व्यक्ति दूसरे के साथ जबरदस्ती करने की कोशिश करें तो दूसरा पार्टनर भले ही सेक्स के लिए तैयार हो जाए लेकिन ना तो उसको सेक्स करने में मजा आएगा और ना ही अगली बार वह आपसे सेक्स के लिए तैयार होगा ।

ऐसा करने से आपकी सेक्स लाइफ में खटास भी आ सकती है, इसलिए सबसे पहले अपने साथी को सेक्स करने के लिए रेडी करें और अगर वह मानसिक रूप से तैयार ना हो तो सेक्स ना करें ।

गर्भनिरोधक साधनों को अपनाएं

यदि सेक्स के दौरान आपके मन में यह डर रहेगा कि कहीं आपकी महिला पार्टनर प्रेग्नेंट ना हो जाए तो आप सेक्स करने में इंटरेस्ट नहीं ले पाएंगे, क्योंकि आपका मन बार-बार उसी और जाएगा कि कहीं आप डिस्चार्ज ना हो जाए और आपकी महिला पार्टनर प्रेग्नेंट ना हो जाए ।

इसलिए सेक्स करते समय आप कंडोम का इस्तेमाल कर सकते हैं या गर्भनिरोधक टेबलेट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जिससे आप मेंटली प्रिपेयर रहेंगे और अपना पूरा ध्यान केवल सेक्स में ही लगाएंगे । बेहतरीन सेक्स के लिए मेंटली फ्री होना और तनाव मुक्त होना बहुत जरूरी होता है ।

सेक्स के लिए जरूरी है एकांतवास

रोमांस से भरे सेक्स के लिए या अपने सेक्स को रोमांचक बनाने के लिए सेक्स करने की जगह का बिल्कुल एकांत होना बहुत जरूरी है । यदि आप किसी ऐसी जगह रहते हैं जहां आपको यह खतरा रहता है कि सेक्स करते समय कहीं कोई आ ना जाए, जैसे कि हॉस्टल रूम जहां आप अपने कमरे को अपने फ्रेंड्स के साथ शेयर कर रहे हो, होटल का कमरा या आपके घर का कोई ऐसा कमरा जहां आपके घर का कोई सदस्य है किसी भी समय आ जा सकता हो ।

तो ऐसी स्थिति में भी आपका माइंड बार-बार ही सोचेगा कि कहीं इस जगह कोई आ ना जाए । ऐसे में डेफिनेटली आप जल्दी डिस्चार्ज हो जाएंगे और आप और आपकी महिला पार्टनर सेक्स का पूरा मजा नहीं ले पाएंगे ।

इसके विपरीत अगर आप किसी ऐसी जगह पर हैं जहां आप दोनों के अलावा कोई और नहीं है और किसी के आने की संभावना भी नहीं है तो ऐसी जगह आप का रोमांच कई गुना बढ़ जाता है ।जिस जगह आप सेक्स रहे हो वहां लाइट बहुत कम होनी चाहिए यानी प्रकाश कम आना चाहिए और चारों तरफ बिल्कुल एकांत होना चाहिए, यह स्थिति आपके सेक्स को बहुत मजेदार बना सकती है ।

महिला पार्टनर के साथ करें प्यार भरी बातें

सेक्स करने से पहले अपनी महिला पार्टनर के साथ प्यार भरी बातें करते रहे । सेक्स के दौरान बीच-बीच में रुक जाएं और अपनी महिला पार्टनर के होठों को, उसके गालों को, गर्दन को, उसकी ब्रेस्ट को और उसके शरीर के निचले हिस्सों को चूमे, चाटे और प्यार करें ।

अपनी महिला पार्टनर के बालों को सहलाए, उससे प्यार भरे मीठी-मीठी बातें करते रहे । ऐसा करने से आपकी महिला पार्टनर सेक्स करने में बहुत ज्यादा इंटरेस्ट लेगी और आपका सेक्स एक यादगार सेक्स बन जाएगा ।

सेक्स करने से पहले करें फोरप्ले

फोरप्ले का सेक्स में कितना महत्व है यह हम आपको शब्दों में बयान नहीं कर सकते । फोरप्ले करते समय पुरुष पार्टनर को अपनी महिला पार्टनर के कपड़े खुद ही धीरे-धीरे करके उतारने चाहिए ।

सबसे पहले अपनी महिला पार्टनर के ऊपर के कपड़े उतारने चाहिए उसके बाद नीचे के कपड़े उतारने चाहिए और ध्यान रखें पेंटी और ब्रा को सबसे लास्ट में उतारना चाहिए, इनमें भी पहले ब्रा उतारनी चाहिए और फिर सबसे लास्ट में पेंटी को धीरे-धीरे करके उतारना चाहिए ।

कपड़े उतारने में कम से कम 15 से 20 मिनट लगाने चाहिए । कपड़े उतारते रहे और अपनी महिला पार्टनर को एक्साइट करते रहें उसे चूमते रहे और उसके अंगों को सहलाते रहें । इससे आपकी महिला पार्टनर आपके सेक्स को कभी नहीं भूल पाएगी ।

कपड़े उतारने के बाद अपनी महिला पार्टनर के गुप्तांगो जैसे महिलाओं के स्तनों और योनि को सैलाना चाहिए। स्तनों के निप्पलों को उंगलियों के द्वारा मसलना चाहिए और होठों से चूसना चाहिए ।

योनि को भी चाटा जा सकता है, ऐसा करने से आपकी महिला पार्टनर सेक्स करने से पहले ही बहुत ज्यादा एक्साइटेड हो जाएगी और सीत्कार करने लगेगी । जब महिला की योनि से सेक्स लुब्रिकेंट निकलना शुरू हो जाए तो आप समझे कि अब आपकी महिला पार्टनर सेक्स के लिए बिल्कुल रेडी है तब आपको सेक्स करना चाहिए ।

सेक्स के लिए सही समय का चुनाव करें

सेक्स करते समय इस बात का ध्यान रखें कि आप की महिला पार्टनर या आपका पुरुष पार्टनर अपने सभी कार्यों को सही प्रकार से समाप्त कर चुका हो । अगर आप सेक्स के लिए बहुत ज्यादा एक्साइटेड हो रहे हैं जबकि आपका पार्टनर अभी किसी काम में बिजी है और उसका मूड नहीं है तो आप जल्दबाजी ना करें ।

थोड़ा संयम रखें, कोशिश करें कि आपका पार्टनर अपना काम अच्छी तरह निपटा लें और बिल्कुल फ्री हो जाए । क्योंकि सेक्स केवल फिजिकली नहीं किया जाता है बल्कि मेंटली भी किया जाता है । इसलिए सेक्स करने से पहले दोनों का बिल्कुल फ्री होना बहुत जरूरी होता है ।

एक दूसरे का रखें ध्यान

सेक्स करते समय दोनों पार्टनर को एक दूसरे से पूछते रहना चाहिए कि उन्हें सेक्स के दौरान कैसा फील हो रहा है । क्या उन्हें कोई दिक्कत तो नहीं हो रही है ? अगर आप की महिला पार्टनर को सेक्स के दौरान किसी पोजीशन में अच्छा महसूस ना हो रहा हो या उसे दर्द हो रहा हो तो आपको तुरंत अपनी सेक्स पोजीशन बदल देनी चाहिए ।

महिलाओं को भी सेक्स के दौरान जो भी बात हो वह तुरंत अपने पुरुष पार्टनर को बतानी चाहिए ताकि एडजस्टमेंट करके सही तरीके से सेक्स किया जा सके ।

सेक्स के बाद क्या करें

यह बहुत इंपोर्टेंट क्वेश्चन है कि सेक्स के बाद क्या करना चाहिए । ज्यादातर कपल्स खासकर पुरुष सेक्स करने के बाद अपने कपड़े पहनते हैं और तुरंत सोने चले जाते हैं । पुरुष सेक्स करने के बाद अपनी महिला पार्टनर की ओर देखते भी नहीं है जो कि बिल्कुल गलत है ।

सेक्स करने के बाद पुरुष को चाहिए कि पहले वह अपनी महिला पार्टनर को कपड़े पहनने में मदद करें, उसके कपड़ों को एक-एक करके उसको उठा कर दें और पहनने में उसकी मदद करें । ब्रा पहनने में महिला की मदद करें ।

जब महिला कपड़े पहन ले उसके बाद अपने कपड़े पहने और फिर दोबारा से महिला को प्यार से किस करें और उसे आई लव यू या थैंक यू जैसे शब्दों से रिझाने की कोशिश करें । इसके बाद यदि आपने कंडोम इस्तेमाल किया है तो उसे डस्टबिन में फेंक दें ।

सेक्स के दौरान महिला की योनि से खून आने पर क्या करें

कई बार सेक्स करते समय महिला पार्टनर कि योनि से खून आ जाता है । यदि महिला पार्टनर वर्जिन है अर्थात वह पहली बार सेक्स कर रही है तो योनि से खून आना स्वभाविक होता है, क्योंकि महिला की योनि में एक झिल्ली होती है जो उस महिला के कोमार्य की पहचान होती है ।

पहली बार संभोग करने के द्वारा लिंग के आघात से यह फत जाती है जिससे योनि से थोड़ा सा खून बाहर आ सकता है । इससे ज्यादा घबराने की आवश्यकता नहीं है, लेकिन यदि महिला वर्जिन नहीं है तो योनि से खून आता है तो इसका मतलब है कि आपने सेक्स करते समय कोई जल्दबाजी जरूर की है ।

सेक्स करने से पहल फॉरेप्ले करें और अपने लिंग पर कोई लुब्रिकेंट या ओयल जरूर लगा ले जिससे लिंग योनि में आसानी से प्रवेश कर जाए और इस तरह की समस्या पैदा ना हो ।

पहली बार सेक्स करने से पहले क्या तैयारी करें

यदि आपकी नई-नई शादी हुई है या आप अविवाहित हैं और आपकी कोई गर्लफ्रेंड है तो दोनों ही स्थितियों में आपको अपनी गर्लफ्रेंड या वाइफ के साथ सेक्स करने में बिल्कुल भी जल्दबाजी नहीं करनी चाहिए । क्योंकि सेक्स शारीरिक रिश्ता तो है ही साथ ही यह एक मानसिक रिश्ता भी है । आप कम से कम 1 सप्ताह तक अपनी महिला पार्टनर के साथ बातचीत करें, उसे समझने का प्रयास करें और उसकी मानसिक स्थिति को समझने की कोशिश करें ।

पहले हम गर्लफ्रेंड के बारे में बात करते हैं उसके बाद वाइफ के बारे में बात करेंगे । गर्लफ्रेंड की स्थिति में पहले आप अपनी गर्लफ्रेंड को किस करने की कोशिश करें । अगर वह आपसे किस करने को तैयार हो जाती है तो आप को समझना चाहिए कि वह आपके साथ सेक्स करने के लिए भी तैयार हो सकती है ।

इसी प्रकार अपनी वाइफ के साथ भी जल्दबाजी ना करें कुछ लोग सोचते हैं कि शादी के बाद सुहाग रात को ही पत्नी के साथ सेक्स करना जरूरी होता है, जबकि वास्तविकता इसके विपरीत है । शादी के अगले दिन ही सुहागरात बनाना जरूरी नहीं होता है ।

यह आप शादी के 1 सप्ताह या 2 सप्ताह बाद भी कर सकते हैं, क्योंकि अगर आपके महिला पार्टनर बहुत ज्यादा शर्म आ रही है या उसमें झिझक है तो पहले आपको उसकी झिझक को दूर करना चाहिए और जब आपकी महिला पार्टनर आपके साथ सेक्स करने के लिए मानसिक और शारीरिक रूप से बिल्कुल तैयार हो तो ही संभोग करें ।

सेक्स करने से पहले फोरप्ले कितना जरूरी है ?

यह एक बहुत ही इंपॉर्टेंट क्वेश्चन है कि सेक्स करने से पहले फोरप्ले कितना जरूरी है । देखिए सेक्स करते समय जब आप अपनी महिला पार्टनर के कपड़े उतारते हैं और बिना किसी फोरप्ले के सेक्स संपादित करते हैं तो इसमें आपकी महिला पार्टनर को ज्यादा रोमांच नहीं आएगा ।

इस प्रकार का सेक्स केवल जानवरों में देखने को मिलता है जहां लव मेकिंग या फॉर प्ले बिल्कुल भी नहीं होता है । सेक्स शुरू करने से पहले अपने साथी के अंगों को सहलाए खासकर की अपनी महिला पार्टनर के स्तनों और नितंबों को अच्छी तरह सहलाए ।

धीरे-धीरे करके अपनी महिला पार्टनर के कपड़े उतारे और स्तनों को हाथ से सहलाए ।अपने होठों से और जीव से इन्हें चूस भी सकते हैं । इसी प्रकार धीरे धीरे पैंटी उतारते हुए योनि पर हाथ फेर सकते हैं तथा योनि को सहलाते हुए अपनी महिला पार्टनर को आनंदित कर सकते हैं ।

ध्यान रखें योनि का ऊपर वाला हिस्सा ही पर ही मसाज की जाती है, इसको जीब से चाटा भी जा सकता है, लेकिन ध्यान रखें योनि के ऊपरी हिस्से को जीब से चाटते समय योनि को अच्छी तरह धोकर साफ कर लेना जरूरी होता है, इससे आपको किसी प्रकार का इन्फेक्शन भी हो सकता है ।

इस प्रकार कुछ ही देर में आपके महिला पार्टनर बहुत ज्यादा एक्साइटेड हो जाएगी और सेक्स करने के लिए रेडी हो जाएगी । महिला भी अपने पार्टनर के लिंग को हाथ में लेकर मसाज कर सकती हैं । हल्का-हल्का हस्तमैथुन कर सकती है या मुंह में लेकर चूस सकती है जिसे हस्तमैथुन कहा जाता है । जब दोनों बिल्कुल एकसाइटेड हो जाए तो ही सेक्स शुरू करें ।

सेक्स को अट्रैक्टिव कैसे बनाएं

यदि आप अपने सेक्स को और ज्यादा इंटरएक्टिव और अनोखा बनाना चाहते हैं तो कुछ बातों का ध्यान रखें, जैसे कि जिस जगह आप सेक्स कर रहे हैं उस कमरे में बहुत हल्की रोशनी होनी चाहिए । पास की मेज पर आप दो या तीन कैंडल्स जला सकते हैं । सेक्स करने वाले कमरे में किसी भी प्रकार का शोर नहीं होना चाहिए । इसके बाद आप अपने साथी के साथ सेक्स कर सकते हैं जिससे आप को सेक्स करने में कुछ नयापन महसूस होगा ।

सेक्स कैसे करते हैं

सेक्स कैसे करते हैं यह एक ऐसा प्रश्न है जिसे सभी नवयुवक यहां तक की प्रोढ़ पुरुष भी जानने को इच्छुक रहते हैं क्योंकि यह विषय है ही ऐसा । ऊपर हमने आपको जितनी भी जानकारी दी वह आपके लिए पर्याप्त हो भी सकती है और नहीं भी । आपको हम अधिक जानकारी देने का प्रयास करते हैं ।

महिला पार्टनर को पोर्न मूवी दिखाना कितना सही है ?

कुछ लोगों के मन में अपनी महिला पार्टनर को पोर्न मूवी दिखाने की बहुत ज्यादा इच्छा रहती है । वे सोचते हैं कि जब वे अपनी गर्लफ्रेंड, वाइफ या अपनी महिला पार्टनर को पोर्न मूवी दिखाएंगे तो वह बहुत ज्यादा उत्तेजित हो जाएगी और आप उसे सही प्रकार से संतुष्ट कर पाएंगे । लेकिन हम इस बात का खंडन करते हैं ।

कभी भी अपनी महिला पार्टनर को ना तो पोर्न फिल्म दिखाएं और ना ही उसके मन में यह भावना पैदा करें कि आप एक पोर्न स्टार की तरह ताकत रखते हैं । क्योंकि पोर्न फिल्मों में जो भी पोर्न स्टार होते हैं वह नशीली दवाइयां एवं इंजेक्शन का इस्तेमाल करते हैं जिससे उनकी यौन क्षमता काफी बढ़ जाता है जो कि वास्तव में पूर्णतया अप्राकृतिक होती है ।

जब महिला पार्टनर इस तरह की पोर्न फिल्में देखती है तो वह अपने पार्टनर से यही एक्सपेक्ट करती हैं कि वह भी बिल्कुल वैसा ही करेगा । लेकिन यदि आप सेक्स के दौरान जल्दी डिस्चार्ज हो जाते हैं, आपका स्टेमिना थोड़ा कम हो या आपके लिंग का साइज छोटा हो तो आप की महिला पार्टनर के मन में एक कुंठा पैदा हो जाती है ।

क्योंकि अब वह आप की तुलना उस पोर्न स्टार से करना शुरू कर देती है । यह वैवाहिक जीवन के लिए बहुत ही खतरनाक साबित हो सकता है । यदि आप विवाहित हैं तो कभी भी अपनी पत्नी को पोर्न मूवीस ना दिखाएं, अदर वाइज वह आपसे कुछ ऐसी ही उम्मीद करनी शुरू कर देगी जो कि आपके लिए आगे चलकर मुसीबत का कारण बन सकती है ।

क्या सेक्स के दौरान सेक्स टॉयज का इस्तेमाल कर सकते हैं ?

यह भी बहुत ही कोमन क्वेश्चन है । लोगों के मन में अक्सर यह बात रहती है कि क्या उन्हें सेक्स के दौरान सेक्स टॉयज का इस्तेमाल करना चाहिए या नहीं ।

अलग-अलग कपल्स का इंटरेस्ट अलग अलग होता है । कुछ कपल्स ऐसे होते हैं जिनमें महिला पार्टनर अपने पुरुष के साथ नेचुरल सेक्स करना ही पसंद करती है उसे सेक्सटॉय बिल्कुल भी पसंद नहीं होते हैं । जबकि दूसरी ओर कुछ महिलाएं सेक्स टॉयज को पसंद करती हैं । इसलिए सेक्सटॉय का इस्तेमाल करने से पहले आप साथी के मूड को समझिए कि उसे क्या पसंद है ।

यदि वो इसे पसंद करती है तो आप सेक्स टॉयज को अपना सकते हैं । यहां हम आपको एक बात और बता दें कि यदि आप शीघ्रपतन के मरीज हैं और आप अपनी महिला पार्टनर को चरम सुख यानी क्लाइमैक्स तक नहीं पहुंचा पाते हैं तो भी आप सेक्स टॉयज का इस्तेमाल कर सकते हैं ।

इस स्थिति में आप आर्टिफिशियल पेनिस या वाइब्रेटर का इस्तेमाल कर सकते हैं । सबसे पहले आर्टिफिशियल पेनिस या वाइब्रेटर का इस्तेमाल करके अपनी महिला पार्टनर को उत्तेजित करने का प्रयास करें ।

यदि आपको लगता है कि आप की महिला पार्टनर 5 से 6 मिनट में डिस्चार्ज होती है और आपकी टाइमिंग 2 से 3 मिनट है तो ऐसी स्थिति में 2 से 3 मिनट तक अपनी महिला पार्टनर को आर्टिफिशियल पेनिस या वाइब्रेटर के साथ सेक्स करें, इसके बाद आप लिंग को योनि में डालकर सेक्स कर सकते हैं ।

ऐसा करने से आप और आपकी महिला पार्टनर दोनों बिल्कुल सही टाइम पर डिस्चार्ज होंगे और आप दोनों को पूरा आनंद आ जाएगा ।

किताबें पढ़ना कितनी जरूरी ?

देखिए यदि आपने सेक्स की दुनिया में नया नया कदम रखा है या आप सेक्स के बारे में और बहुत कुछ जानना चाहते हैं तो आप और आपकी महिला पार्टनर दोनों ही सेक्स से जुड़ी हुई किताबों को पढ़ सकते हैं ।

इसके लिए आपको बाजार से कामशास्त्र जैसी पुस्तके मिल जाएंगी । यह पुस्तक अगर आपको बाजार से ना मिले तो आप ऑनलाइन भी मंगा सकते हैं । इन पुस्तकों में सेक्स करने के तरीके, सेक्स करने की पोजीशन, सेक्स करते समय रखी जाने वाली सावधानियां आदि के बारे में विस्तार से वर्णन होता है ।

हम आपको सलाह देते हैं यदि आप सेक्स के बारे में गहराई जानना चाहते हैं तो आप कामशास्त्र का अध्ययन कर सकते हैं । यह सेक्स की जानकारी के लिए बहुत ही प्रसिद्ध किताब है ।

एक दूसरे की इच्छाओं को पूरा करें

सेक्स को आनंदित और रोमांचक बनाने के लिए यह बहुत जरूरी है कि आप अपने पार्टनर की कल्पनाओं को समझे और उसे ऐसा करने के लिए अपनी स्वीकृति प्रदान करें । सेक्स करते समय आपके पार्टनर के मन में तरह तरह के विचार आते हैं ।

वह आपसे अलग-अलग स्टाइल में सेक्स करना चाहता है, जैसे डॉगी स्टाइल, फेस टू फेस स्टाइल, बैक डोर सेक्स, स्टैंडिंग सेक्स आदि आदि । आपका पार्टनर आप को सेक्स के दौरान अलग-अलग पोजीशन में लाने के लिए कह सकता है तो आप तुरंत उस पोजीशन में आ जाए ।

यदि आप बार-बार अपने पार्टनर को मना कर देंगे तो आपका पार्टनर निराश हो जाएगा और उसके जोश में भी कमी आ जाएगी । यह आपके सेक्स को बेकार करने का कारण बन सकता है । इसलिए सेक्स के दौरान आपका पार्टनर आपको जो भी करने के लिए कहें आपको उसका कहना मानना चाहिए ।

चर्मसुख के बारे में ज्यादा ना सोचे

अंत में हम अपनी बताना चाहेंगे कि बहुत से पुरुष अपनी महिला पार्टनर को चरम सुख तक पहुंचाने के लिए बहुत ज्यादा एक्साइटेड रहते हैं । सेक्स के दौरान बार-बार यह सोचते रहते हैं कि वह अपनी महिला पार्टनर को चरम सुख तक पहुंचा पाएंगे या नहीं ।

क्योंकि उनके मन में यह डर रहता है कि कहीं वे अपनी महिला पार्टनर को चरम सुख तक पहुंचाने से पहले ही डिस्चार्ज ना हो जाए । यदि ऐसा हुआ तो उन्हें बहुत ज्यादा निराशा होगी और अपनी महिला पार्टनर के सामने उनकी इंसल्ट हो सकती है ।

यह बात उनके दिमाग में बार-बार आती है जिससे ना चाहते हुए भी वे बीच में ही डिस्चार्ज हो जाते हैं । इसलिए आपको अपना सारा फोकस केवल अपनी महिला पार्टनर को एक्साइटिड करने में ही लगाना चाहिए ।

सेक्स के दौरान इस तरह की बातों को सोचने से आपका सेक्स खराब हो सकता है । यदि आपको सेक्स में किसी भी प्रकार की समस्या है तो आप हमारे से संपर्क कर सकते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *