15. मूत्र- कृच्छता

By | November 28, 2019

मूत्र- कृच्छता
(दर्द के साथ बार-बार पेशाब आना)

खानपान और रहन-सहन की गड़बड़ी के कारण कभी-कभी महिलाओं व पुरुषों दोनों में ही यह रोग हो जाता है । इस रोग में रोगी को बार बार पेशाब आता है तथा पेशाब करते समय बहुत अधिक दर्द व जलन होती है । दवा का नियमित सेवन करने से कुछ ही समय में दर्द व जलन बिल्कुल ठीक हो जाती है । पेशाब भी सामान्य हो जाता है । इस रोग में रोगी को अत्यधिक गर्मी से बचना चाहिए व पानी खूब पीना चाहिए ।

सेवन विधि – दवा के साथ भेजी जाती है ।

मूल्य – एक माह की दवा का मूल्य 550/- मात्र डाक खर्च अलग |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *