उशीरासव के फायदे और नुक्सान Ushirasava ke fayde or nuksaan

By | May 20, 2020

उशीरासव क्या है? Ushirasava kya hai?

उशीरासव एक आयुर्वेदिक एवं हर्बल औषधि है जो आयुर्वेद मैं आसव विधि से तैयार की जाती है तथा इस औषधि में 5% से 10% तक सेल्फ जेनरेटेड अल्कोहल होता है । यह औषधि मूत्र संस्थान के रोगों में बहुत अच्छा फायदा करती है ।

इसके अतिरिक्त यह एक रक्तशोधक भी है तथा शरीर में किसी भी प्रकार के रक्त स्राव जैसे गुदा से रक्त स्राव होना, प्रसव के उपरांत अत्यधिक रक्तस्राव का होना या नाक से रक्त स्राव का होना जिसे नकसीर फूटना भी कहा जाता है मैं लाभकारी होती है ।

इस औषधि का प्रमुख घटक द्रव्य खस होता है जिसे संस्कृत में उशीर कहा जाता है, इसीलिए इस औषधि का नाम उशीरासव रखा गया है । यह औषधि तासीर में ठंडी होती है तथा शरीर में अत्यधिक गर्मी को दूर कर शरीर को शीतलता प्रदान करती है । यह औषधि गर्भावस्था में समय से पहले होने वाले प्रसव या गर्भपात से बचने के लिए भी प्रयोग कराई जाती है

उशीरासव के घटक द्रव्य Ushirasava ke ghatak dravy

  • Ushira उशीर या खस Vetiveria zizanioides Rt. 48 g
  • Balaka (Hrivera) हृवेरा Coleus vettiveroides Rt. 48 g
  • Padma कमल Nelumbo nucifera Fl. 48 g
  • Kashmarya (Gambhari) गंभारी Gmelina arborea St. Bk. 48 g
  • Nilotpala (Utpala) उत्पल Nymphaea stellata Fl. 48 g
  • Priyangu प्रियंगु Callicarpa macrophylla Fl. 48 g
  • Padmaka पदमाख Prunus cerasoides St. 48 g
  • Lodhra लोध्र Symplocos racemosa St. Bk. 48 g
  • Manjishtha मंजीठ Rubia cordifolia Rt. 48 g
  • Dhanvayasaka जवासा Fagonia cretica Pl. 48 g
  • Patha पाठा Cissampelos pareira Rt./Pl. 48 g
  • Kiratatikta चिरायता Swertia chirata Pl. 48 g
  • Nyagrodha बरगद Ficus benghalensis St. Bk. 48 g
  • Udumbara गूलर Ficus racemosa St. Bk. 48 g
  • Shati शाठी Hedychium spicatum Rz. 48 g
  • Parpata पित्तपापड़ा Fumaria parviflora Pl. 48 g
  • Kamala कमल Nelumbo nucifera Fl. 48 g
  • Patola परवल Trichosanthes dioica Lf./Pl. 48 g
  • Kancanaraka (Kancanara) कचनार Bauhinia variegata St. Bk. 48 g
  • Jambu जामुन Syzygium cumini St. Bk. 48 g
  • Shalmali शाल्माली Niryasa (Shalmali) Salmalia malabarica Exd. 48 g
  • Draksha द्राक्षा Vitis vinifera Dr. Fr. 960 g
  • Dhataki धातकी Woodfordia fruticosa Fl. q.s. for dhupana
  • Jala पानी Water 24.576 l
  • Sharkara चीनी Sugar 768 g
  • Kshaudra (Madhu) शहद Honey 4.8 kg
  • Marica काली मिर्च Piper nigrum Fr. q.s. for dhupana

उशीरासव के फायदे Ushirasava ke fayde

  • यह एक मूत्र वर्धक औषधि है, इसका सेवन करने से मूत्र अधिक आता है ।
  • यह तासीर में ठंडी है तथा इसका सेवन करने से शरीर की गर्मी दूर होती है ।
  • यह रक्तस्तंभक है तथा शरीर में से किसी भी प्रकार बहने वाले खून को बंद करने में लाभदायक है ।
  • यह प्रमेह रोग एवं पेशाब में जलन तथा मूत्र संस्थान के संक्रमण में लाभकारी है ।
  • यह पथरी रोग में फायदा करती है ।
  • यह पेट के कीड़ों एवं बड़ी आत के कीड़ों को नष्ट कर देती है ।
  • यह रक्ताल्पता अर्थात एनीमिया में फायदा करती है ।

सेवन विधि और मात्रा

औषधीय मात्रा (Dosage)

बच्चे(5 वर्ष की आयु से ऊपर)   6 से 12 मिलीलीटर
वयस्क 12 से 24 मिलीलीटर

सेवन विधि (Directions)

दवा लेने का उचित समय (कब लें?) खाना खाने के बाद लें
दिन में कितनी बार लें? 2 बार – सुबह और शाम
अनुपान (किस के साथ लें?) गुनगुने पानी के साथ
उपचार की अवधि (कितने समय तक लें) चिकित्सक की सलाह लें

सावधानियां एवं दुष्प्रभाव

सामान्यतः इस औषधि का कोई दुष्प्रभाव नहीं देखा गया है लेकिन हम आपको सलाह देते हैं कि आप इस औषधि का सेवन अपने डॉक्टर की देखरेख में ही करें । इस औषधि का अधिक मात्रा में सेवन करने से पेट में जलन, हाइपर एसिडिटी एवं मुंह में छाले हो सकते हैं । इस औषधि को गर्भवती महिलाओं एवं स्तनपान कराने वाली महिलाओं को नहीं देना चाहिए ।

कहाँ से खरीदें? Where to buy?

आप इस दवा को सभी फार्मेसी दुकानों पर या ऑनलाइन खरीद सकते हैं।

This medicine is manufactured by Dabur, Shree Baidyanath Ayurved Bhawan, Patanjali Divya Pharmacy Usirasava, Sandu, Vaidyaratnam Oushadhasala Useerasavam, and some other pharmacies.

 
 


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *