पतंजलि गोमूत्र अर्क के फायदे एवं नुक्सान Patanjali Gomutra Ark Benefits and Side Effects in hindi

By | April 25, 2020

पतंजलि गोमूत्र अर्क क्या है? What is Patanjali Gomutra Ark in hindi

नमस्कार दोस्तों आज हम पतंजलि गोमूत्र अर्क (Patanjali Gomutra Ark) के बारे में बात करेंगे । आप जानते ही हैं कि भारतवर्ष ऋषि मुनियों का देश रहा है तथा हमारे देश में आयुर्वेद का अपना ही एक विशेष स्थान है । हम आपको बता दें कि गोमूत्र अर्क का वर्णन आयुर्वेद में भी किया गया है ।

गाय के मूत्र अर्थात गोमूत्र एवं गोबर में अनेक ऐसे औषधीय गुण मौजूद होते हैं जिनका लाभ आयुर्वेदिक ग्रंथों में बताया गया है । गाय के गोबर को तो बहुत ज्यादा शुद्ध मानते है एवं इसका घरों में लीपापोती में भी इस्तेमाल किया जाता रहा है ।

हमारे देश में आज भी गांवों में घरों में गोबर को लीपा जाता है । जहां तक गोमूत्र अर्क की बात है तो शायद आप जानते होंगे, गोमूत्र अर्क को आयुर्वेद में पंचगव्य में स्थान दिया गया है । गाय के दूध, गोमूत्र अर्क, घी, दही एवं गोबर को मिलाकर पंचगव्य तैयार किया जाता है ।

आयुर्वेद में तो गोमूत्र अर्क को अमृत कहा गया है । भारत ही नहीं आज विश्व के अनेक देशों में गोमूत्र अर्क को आयुर्वेदिक टॉनिक के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है और यह बहुत गर्व की बात है कि यह हमारे देश की ही संस्कृति है ।

यदि गाय गर्भवती हो तो ऐसी गाय के मूत्र में बहुत ज्यादा फायदेमंद एवं लाभकारी गुण आ जाते हैं । माना जाता है इसमें कुछ ऐसे हार्मोन आ जाते हैं जो मनुष्य शरीर के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होते हैं । गोमूत्र अर्क का सेवन करने से 80 से भी ज्यादा असाध्य रोगों को ठीक करने में सहायता मिलती है । घर में भी गोमूत्र का पोछा लगाने से हानिकारक बैक्टीरिया नष्ट होते हैं ।

कैंसर में लाभकारी गोमूत्र अर्क Gomutra Ark benefits in cancer

गोमूत्र अर्क गले के कैंसर, आहार नाल के कैंसर एवं पेट के कैंसर में बहुत ही अच्छा फायदा करता है । हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि कैंसर जैसी बीमारी शरीर में करक्यूमिन नामक तत्व के कम हो जाने पर होती है । जबकि दूसरी ओर गोमूत्र में करक्यूमिन बहुत अधिक मात्रा में मौजूद होता है, और यह पीने के तुरंत बाद एकदम हजम भी हो जाता है ।

इसलिए गोमूत्र अर्क कैंसर जैसी बीमारी में बहुत ही अच्छा फायदा करता है । एक अध्ययन में देखा गया है जिन रोगियों को गोमूत्र अर्क का सेवन कराया गया उनकी स्थिति में है अन्य बहुत जल्दी सुधार आया ।

मोटापे में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits in weight loss in hindi

गाय का मूत्र मोटापे मैं भी लाभकारी होता है । गोमूत्र अर्क में अनेक प्रकार के विटामिन जैसे कि विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन डी, विटामिन के, क्रिएटिनिन आदि पाए जाते हैं जो वजन को कम करने में बहुत अधिक फायदेमंद होते हैं । इतना ही नहीं गोमूत्र अर्क में कुछ ऐसे एंजाइम भी मौजूद होते हैं जो वजन घटाने में सहायक होते हैं ।

मोटापा कम करने के लिए गोमूत्र अर्क को सेवन करने की विधि इस प्रकार है । एक गिलास पानी में तीन से चार बूंद गोमूत्र अर्क की, एक चम्मच शहद एवं एक चम्मच नींबू का मिलाकर रोजाना दिन में दो बार पीने से लाभ मिलता है ।

तिल्ली में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits in tilli in hindi

गोमूत्र अर्क बढ़ी हुई तिल्ली को नियंत्रित रखने में भी लाभकारी होता है । तिल्ली को आम भाषा में प्लीहा कहा जाता है । इसके लिए लगभग 40 से 50 एम एल गोमूत्र अर्क में थोड़ा सा नमक मिलाकर प्रतिदिन इसका सेवन करने से बढ़ी हुई तिल्ली सही होने लगती है । इतना ही नहीं यदि रोग वाले स्थान पर गोमूत्र की सिकाई की जाए तो भी इससे फायदा मिलता है ।

त्वचा रोगों में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits in skin disease in hindi

गोमूत्र अर्क महिलाओं की त्वचा संबंधित समस्याओं जैसे कील, मुहांसों में बहुत अधिक फायदेमंद होता है । त्वचा रोगों के अलावा बालों की समस्याओं में भी गोमूत्र अर्क से फायदा देखने को मिला है । आजकल बाजार में बहुत से ऐसे साबुन एवं शैंपू आ गए हैं जिनमें केमिकल की मात्रा बहुत ज्यादा होती है ।

इन साबुन या शैंपू का सेवन करने से त्वचा एवं बालों की समस्याएं आ जाती हैं । ऐसे में यदि चेहरे पर गोमूत्र अर्क को कुछ समय के लिए लगाकर छोड़ दिया जाए और बाद में ताजा पानी से मुंह धो लिया जाए तो कुछ ही दिनों में चेहरे पर कील मुहासे ठीक होने लगते हैं ।

बालों की समस्याओं में बालों को रीठा, शिकाकाई, आमला आदि के मिश्रण से धोना चाहिए तथा पानी में थोड़ा सा गोमूत्र अर्क मिला लेना चाहिए और इस पानी से ही सिर को धोना चाहिए । इससे बालों की समस्याओं में फायदा देखने को मिलता है ।

यदि शरीर पर सफेद दाग हो गए हो जिन्हें फूलबेहरी कहा जाता है, जो कि एक प्रकार का कोढ़ होता है । इस समस्या में गोमूत्र अर्क में बावची को मिलाकर पीस लें तथा सफेद दाग वाले स्थान पर रात्रि के समय इसका मलहम लगाएं और सुबह उठकर गोमूत्र अर्क से धो लें । प्रतिदिन 2 से 3 महीने में सफेद दाग में बहुत ज्यादा लाभ मिल जाएगा ।

यदि शरीर में खाज खुजली रहती हो तो गोमूत्र अर्क में थोड़ा सा जीरा पीसकर मिला दें और खुजली वाले स्थान पर लेप करें । इससे दाद, खाज, खुजली में आराम मिलता है । इसके अतिरिक्त अन्य समस्याओं जैसे एग्जिमा एवं सोरायसिस में गोमूत्र से बहुत अधिक फायदा पहुंचाता है ।

गले की खराश में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits in throat infection in hindi

यदि गले में टॉन्सिल्स हो गए हैं एवं गले में खराश रहती हो तो उस स्थिति में गोमूत्र अर्क को थोड़े से पानी में मिलाकर गरारे करने से फायदा मिलता है । इसके लिए आप ताजा गोमूत्र का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, क्योंकि बाजार में मिलने वाला गोमूत्र डिस्टलेशन विधि से तैयार होता है ।

इसलिए ताजे गोमूत्र को ही गुनगुने पानी में मिलाकर इसका सेवन करें । आप इस पानी में थोड़ा सा नमक एवं एक चुटकी हल्दी पाउडर भी मिला सकते हैं ।

पेट की समस्याओं में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits in stomach problems in hindi

गोमूत्र अर्क पेट की समस्याओं में लाभकारी सिद्ध हुआ है । यदि आपको पेट की समस्या जैसे गैस, कब्ज, एसिडिटी रहती हो तो इसके लिए आप एक गिलास पानी में एक चम्मच गोमूत्र अर्क, आधा चम्मच नींबू का रस और थोड़ा सा नमक मिलाकर खाली पेट पी ले ।

एक से डेढ़ घंटे तक कुछ भी खाना-पीना नहीं है । प्रतिदिन इस विधि से गोमूत्र अर्क का सेवन करने से कुछ ही समय में पेट की समस्याओं में लाभ मिल जाता है ।

लीवर के लिए फायदेमंद गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits for liver problems in hindi

गोमूत्र अर्क लीवर के अच्छे स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है । गोमूत्र अर्क रक्तशोधक की भांति कार्य करता है । यह रक्त का शोधन करता है जिस कारण लीवर को नई ऊर्जा और बल प्राप्त होता है ।

जोड़ों के दर्द में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits in gout in hindi

गोमूत्र अर्क को जोड़ों के दर्द में इस्तेमाल किया जा सकता है । इसके लिए दर्द वाले स्थान पर गोमूत्र अर्क से सिकाई करें । एक कपड़ा ले ले तथा उसे गोमूत्र अर्क में भिगोकर दर्द वाले स्थान पर सिकाई करने से जोड़ों के दर्द में लाभ मिलता है ।

हृदय रोगों एवं डायबिटीज में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark benefits for heart and diabetes in hindi

हृदय एवं डायबिटीज की बीमारी में तीन से चार चम्मच गोमूत्र अर्क को सुबह-शाम सेवन करना चाहिए । इससे हृदय एवं डायबिटीज की समस्या में बहुत अधिक फायदा मिलता है ।

पीलिया में लाभकारी गोमूत्र अर्क

Gomutra Ark uses in hindi

पीलिया एक घातक बीमारी है । पीलिया की बीमारी होने पर 200 से ढाई सौ मिली लीटर गोमूत्र अर्क को 15 दिनों तक पिलाने से पीलिया में फायदा मिलता है । यदि रोगी को उच्च रक्तचाप की समस्या हो तो एक चौथाई कप में एक चौथाई चम्मच फूली हुई फिटकरी को डालकर सेवन कराने से फायदा मिलता है । फिटकरी को तवे पर डालकर भूलने पर वह फूल जाती है इसके पश्चात उसे पीसकर गोमूत्र अर्क में डालकर रोगी को पिलाने से लाभ मिलता है ।

पेट फूलने में लाभकारी गोमूत्र अर्क

कई बार बच्चों का पेट फुल कर बिल्कुल टाइट हो जाता है । इस स्थिति में गोमूत्र अर्क का प्रयोग इस प्रकार किया जा सकता है । 30 मिली लीटर गोमूत्र में आधा चम्मच नमक मिलाकर रख लें । जब भी बच्चों का पेट टाइट हो जाए तो एक चम्मच गोमूत्र अर्क को बच्चों को पिलाने से लाभ मिल जाता है । यदि बड़ों का पेट फूल जाए तो दो चम्मच की मात्रा दी जा सकती हैं ।

सावधानियां Precautions

  • देसी गाय का गोमूत्र अर्क सेवन करने से ज्यादा लाभ मिलता है ।
  • जंगल में चरने वाली गाय का मूत्र सबसे अच्छा माना जाता है, क्योंकि जंगल में चरने वाली गाय विभिन्न प्रकार की वनस्पतियां खाती है ।
  • गाय की बछिया जिसकी आयु 1 वर्ष से कम हो उसका मूत्र सबसे अच्छा माना जाता है ।
  • मालिश के लिए कम से कम 10 दिन पुराना गोमूत्र अर्क ही अच्छा रहता है ।
  • बच्चों को 5ml एवं बड़ों को 10ml से ज्यादा गोमूत्र अर्क का सेवन नहीं करना चाहिए ।

गोमूत्र अर्क के नुकसान

Gomutra Ark Side Effects in hindi

  • गोमूत्र अर्क की तासीर गर्म होती है इसलिए गर्मियों में इसका सेवन करने से बचना चाहिए ।
  • आवश्यकता से अधिक गोमूत्र अर्क का सेवन करने से शरीर में लाल दाने एवं चकत्ते पड़ सकते हैं ।
  • बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं को गोमूत्र अर्क देने से नुकसान हो सकता है, इसलिए गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को गोमूत्र डॉक्टर की देखरेख में ही दें ।
  • गोमूत्र अर्क को मिट्टी, कांच या स्टील के बर्तन में ही रखें ।
  • जो लोग बहुत ज्यादा कमजोर हो तथा जिन्हें बहुत जल्दी थकान हो जाती हो उन्हें गोमूत्र अर्क का सेवन नहीं करना चाहिए ।
  • जिन लोगों को नींद कम आती हो या ना आती हो उन्हें गोमूत्र अर्क का सेवन नहीं करना चाहिए ।

ये लेख आपको कैसा लगा अपने सुझाव् दें ।

 
 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *