पंचामृत लौह गुग्गुल के गुण फायदे उपयोग एवं नुक्सान Panchamrut Loha Guggul uses and side effects in hindi

By | April 16, 2020

पंचामृत लौह गुग्गुल क्या है?  What is Panchamrut Loha Guggul in hindi

 
नमस्कार दोस्तों आज हम बात करेंगे पंचामृत लौह गुग्गुल (Panchamrut loha guggul) के बारे में । पंचामृत लौह गुग्गुल एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसका प्रयोग मुख्य रूप से दर्द निवारक औषधि के रूप में किया जाता है ।
 
यह औषधि वायु दोष जैसे आमवात, संधिवात अर्थात जोड़ों का दर्द, साइटिका का दर्द तथा अन्य वायु रोगों में प्रयोग की जाती है । अनियमित खान-पान के कारण शरीर में वात, पित्त एवं कफ अनियमित हो जाते हैं तथा भोजन सही तरीके से हजम नहीं होता है ।
 

पंचामृत लौह गुग्गुल इन हिंदी Panchamrut Loha Guggul in hindi

 
इस स्थिति में पित्त एवं वायु रक्त के साथ मिलकर जोड़ों में चले जाते हैं जिस कारण जोड़ों में भयंकर दर्द होता है । इस स्थिति को ही गठिया बाय अर्थात अर्थराइटिस कहा जाता है । ऐसी स्थिति आने पर पंचामृत लौह गुग्गुल को योगराज गुग्गुल के साथ देने पर चमत्कारिक लाभ देखने को मिलता है ।
 
इस औषधि का विवरण भेषज रत्नावली, आयुर्वेद सार संग्रह, रस तंत्र सार व सिद्ध प्रयोग संग्रह द्वितीय खंड आदि ग्रंथों में किया गया है । इससे आप अनुमान लगा सकते हैं कि यह औषधि कितनी लाभदायक है । आइए अब हम इस औषधि के घटक द्रव्य के बारे में बात करते हैं ।
 

पंचामृत लौह गुग्गुल के घटक द्रव्य Panchamrut Loha Guggul Ingredients in hindi

    • शुद्ध पारा
    • शुद्ध गंधक
    • रोप्य भस्म 
    • अभ्रक भस्म
    • स्वर्ण माक्षिक भस्म 
    • लोह भस्म 
    • शुद्ध गूगल
 

पंचामृत लौह गुग्गुल को बनाने की विधि How to produce Panchamrut Loha Guggul in hindi

 
सबसे पहले शुद्ध पारा एवं शुद्ध गंधक प्रत्येक 40-40 ग्राम ले ले तथा इनको खरल करके कजली का निर्माण कर ले । अब इसमें अभ्रक भस्म, स्वर्ण माक्षिक भस्म एवं रोपय भस्म प्रत्येक 40-40 ग्राम मिलाकर मिश्रण तैयार कर लें ।
 
इसके पश्चात लोहे के खरल में गूगल घोटें तथा इसके ऊपर कड़वे तेल के छींटे मारते हुए इसे तब तक घोटते हैं जब तक गूगल नरम हो जाए । अब इसमें शेष सभी द्रव्यों को मिलाकर दोबारा से पांच से 6 घंटे तक अच्छी तरह घुटाई करें । तत्पश्चात 2-2 रत्ती की गोलियां बनाकर छाया में सुखा लें । पंचामृत लौह गुग्गुल बनकर तैयार है ।
 

पंचामृत लोहा गूगल की मात्रा एवं सेवन विधि Panchamrut Loha Guggul Dosage and Directions in hindi


पंचामृत लोह गूग्गुल की एक-एक गोली सुबह शाम ताजे पानी या दूध के साथ सेवन कर सकते हैं । बच्चों को आधी गोली दी जानी चाहिए । अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क अवश्य करें ।
 

पंचामृत लौह गुग्गुल के फायदे एवं उपयोग Panchamrut Loha Guggul Benefits and Uses in hindi

 
पंचामृत लोह गुग्गुल का सबसे प्रमुख कार्य गठिया बाय अर्थात अर्थराइटिस को दूर करना होता है । इसके अलावा मांसपेशियों का दर्द, साइटिका का दर्द, कमर दर्द आदि में भी यह दवा लाभदायक होती है । पंचामृत लोह गूगल में जो औषधियां प्रयोग की जाती हैं वे स्नायु दुर्बलता मैं भी बहुत अच्छा कार्य करती हैं ।
 
इसलिए इस दवा के सेवन करने से मस्तिष्क की कमजोरी जैसे चक्कर आना, घबराहट या बेचैनी होना तथा स्मृति भ्रम में भी लाभ मिलता है । लेकिन यह इसका पार्श्व प्रभाव है । मस्तिष्क विकारों में इस औषधि को प्रमुख औषधि के रूप में प्रयोग नहीं किया जाता है ।
 
यह औषधि अनियमित खान-पान के कारण उत्पन्न हुई अपच को सही करती है तथा दूषित पित्त को समाप्त करती हैं । इस औषधि का पाचन संस्थान पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है तथा यह अग्नि वर्धक एवं बलवर्धक रसायन है ।
 
यह औषधि बड़ी आंत पर सकारात्मक प्रभाव डालती है । इस औषधि के सेवन से सप्त धातु पुष्ट होती हैं जिससे शरीर बलवान एवं कांति में हो जाता है ।
 

पंचामृत लोह गूगल प्रयोग करते समय सावधानियां Precuations while using Panchamrut Loha Guggul in hindi

 
    • इसका सेवन करते समय रोगी को बाजार की तली भुनी चीजें जैसे टिक्की, बर्गर, चाऊमीन इत्यादि का सेवन नहीं करना चाहिए तथा अपने भोजन में मिर्च, मसालेदार एवं चटपटी वस्तुओं का सेवन नहीं करना चाहिए ।
    • इस दवा के सेवन के दौरान मीट, मांस, मछली तथा शराब का सेवन नहीं करना चाहिए ।
    • खटाई तथा चटपटी चीजें कम से कम करना चाहिए । पानी खूब पीना चाहिए तथा त्रिफला या पंचसकार चूर्ण का नियमित सेवन करना चाहिए जिससे कब्ज न हो पाए ।
    • भोजन को नियमित समय पर ही करना चाहिए । सुबह का भोजन 8:00 बजे दोपहर का 12:00 बजे एवं शाम का भोजन 8:00 बजे कर लेना चाहिए ।
    • दवा की अधिक मात्रा का सेवन नहीं करना चाहिए,  तथा दवा को किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में ही लेना चाहिए ।
 

पंचामृत लोग गर्ल के नुकसान Panchamrut Loha Guggul Side Effects in hindi

 
सामान्यता इस औषधि का कोई दुष्प्रभाव नहीं है । लेकिन फिर भी आप इस औषधि को अपने डॉक्टर की सलाह लेने के पश्चात ही सेवन करें ।
 
 
निर्माता Producers
 
पंचामृत लौह गुग्गुल को Baidyanath, Dabur, Divya Patanjali  आदि कंपनियों के द्वारा बनाया जाता है ।
 
 

 

2 thoughts on “पंचामृत लौह गुग्गुल के गुण फायदे उपयोग एवं नुक्सान Panchamrut Loha Guggul uses and side effects in hindi

  1. V N Vasishta

    I started taking Panchamrit loh gouggle to have benefits in cervical spondilytis but I have to stop this medication as I felt that my BP is shooting up
    Please advice whether this medication has any such sideeffect

    Reply
    1. admin Post author

      Panchamrit loh guggul does not have any such ingredients which can increase blood pressure. This medicine does not have such side effects.

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *