मेदोहर गुग्गुल में गुण उपयोग फायदे एवं नुक्सान Medohar Guggulu benefits and side effects in hindi

By | April 13, 2020

मेदोहर गुग्गुल इन हिंदी Medohar Guggulu in Hindi

 
नमस्कार दोस्तों आज हम मेदोहर गुग्गुल के बारे में बात करेंगे । मेदोहर गुग्गुल को दिव्या पतंजलि कंपनी के द्वारा दिव्य मेदोहर वटी के नाम से भी बनाया जाता है । मेदोहर गुग्गुल अथवा मेदोहर वटी एक आयुर्वेदिक औषधि है जिसका मुख्य कार्य पेट की चर्बी को कम करना तथा पाचन संस्थान की अनेक प्रकार की समस्याओं को दूर करना होता है । आइए इस औषधि के बारे में विस्तार से बात करते हैं ।
  • उपलब्धता: यह ऑनलाइन और दुकानों में उपलब्ध है।
  • दवाई का प्रकार: आयुर्वेदिक हर्बल दवा
  • मुख्य उपयोग: मोटापा कम करना Weight Loss
  • मुख्य गुण: मेदोहर, कृमिघ्न, विरेचक
  • बैद्यनाथ मेदोहर गुग्गुलु एमआरपी MRP: 120 Tablets @ INR 195
आपकी सुविधा के लिए हमने नीचे मेदोहर गुग्गुल को मंगाने का Online Link दिया है । इस लिंक से इस Medicine को खरीदने पर आपको 15% तक का discount मिलेगा तथा Free Delivery की सुविधा भी मिलेगी । इस प्रकार इस दवा को आप घर बेठे बेठे मार्किट से भी कम price पर मंगा सकते हैं, वो भी बिना किसी extra charge के । इस दवा को आर्डर करने के लिए नीचे दिए गए लिंक से अभी Order दें ।
बैद्यनाथ मेदोहर गुग्गुल को अभी आर्डर करने के लिए इस लिंक पर जाए और दवा को घर बेठे बेठे मंगाए ।
Product Link: Baidyanath Medohar Guggulu 120 Tablets
 
 
मेदोहर गूगल (Medohar Guggulu) में ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो मोटापे को कम करते हैं । मेदोहर गूगल का मुख्य औषधीय घटक त्रिफला एवं गूगल है । यह दोनों दवाएं मोटापे एवं सूजन को कम करने के लिए सुप्रसिद्ध हैं । इस दवा का नियमित सेवन करने मात्र से ही मोटापा काफी हद तक कम हो जाता है । यदि आप केवल त्रिफला ही सुबह खाली पेट प्रयोग करेंगे तो शरीर में एक्स्ट्रा फैट कम होगी तथा मोटापा भी कम हो जाता है ।

 
आजकल ज्यादातर लोगों का रहन सहन और खानपान इस प्रकार का हो गया है कि वह अपने भोजन में कैलोरी की मात्रा तो अधिक लेते हैं, लेकिन उस हिसाब से उसे खर्च बहुत कम करते हैं अर्थात शारीरिक श्रम बहुत कर्म करते हैं । जिस कारण इस बिगड़ी हुई दिनचर्या के कारण उनके शरीर में अतिरिक्त चर्बी एवं कोलेस्ट्रोल की मात्रा बहुत ज्यादा हो जाती है, और इस अवस्था को ही मोटापा कहा जाता है ।

 
यदि आप चाहते हैं कि आप मोटापे का शिकार ना हो तो आपको सबसे पहले अपनी दिनचर्या को ही ठीक करना होगा । इसके लिए अपना खानपान संतुलित रखें तथा उसी हिसाब से योग और व्यायाम भी अवश्य करें ताकि आप बिल्कुल फिट रहे । लेकिन यदि आपने इन बातों का ध्यान नहीं रखा है और आप मोटापे का शिकार हो चुके हैं तो भी घबराने की जरूरत नहीं है । क्योंकि आयुर्वेद ने हमें मेदोहर गूगल के रूप में एक आयुर्वेदिक औषधि दी हैं जो मोटापे को दूर करने के लिए रामबाण सिद्ध होती है ।

 
यदि आप सही समय पर मोटापे का इलाज नहीं करेंगे तो यह मोटापा अपने साथ अनेकों बीमारियों जैसे डायबिटीज, उच्च रक्तचाप एवं हृदय की समस्याओं को भी लेकर आ जाएगा । इसलिए सही समय पर ही मोटापे का इलाज करके अपने आप को स्वस्थ कर लेना चाहिए । आइए जानते हैं मेदोहर गुग्गुल में कौन-कौन से औषधीय घटक प्रयोग किए जाते हैं ।

 

मेदोहर गूगल के औषधीय घटक Medohar Guggulu Ingredients

  • गुग्गुल
  • त्रिकटु
  • अदरक
  • मरीच या मरीचा
  • पिपली
  • चित्रकमूल
  • त्रिफला
  • नागरमोथा
  • वायविडंग
  • गुग्गुल
  • अरंड का तेल
गुग्गुल एक ऐसी जड़ी बूटी है जो शरीर में मोटापे को कम करती हैं तथा शरीर में आई हुई किसी भी प्रकार की सूजन को कम करने में सहायक होती हैं । गूगल शरीर की वसा को कम करती है तथा कोलेस्ट्रोल को भी नियंत्रित रखती है ।

त्रिकटु अर्थात पिपली, काली मिर्च एवं सोंठ को बराबर बराबर मात्रा में मिलाकर बनाया गया मिश्रण । यह मिश्रण पाचन संस्थान एवं स्वास्थ संबंधी समस्याओं में फायदा करता है ।

अदरक जिसके सूखे हुए रूप को सोंठ कहा जाता है । यह ज्वरनाशक एवं ब्लड शुगर को नियंत्रित करता है । इसके अतिरिक्त अनेक प्रकार की समस्याओं में फायदा करता है ।

मरीच या मरीचा काली मिर्च का ही दूसरा नाम है, जिसे अंग्रेजी में ब्लैक पेपर भी कहा जाता है । इसकी तासीर गर्म होती है । यह पाचन संस्थान एवं श्वसन संस्थान पर सकारात्मक प्रभाव डालती है । इसके अतिरिक्त यह ज्वरनाशक एवं कृमि नाशक भी होती हैं ।

पिपली यह खांसी, गला बैठना, दम्मा तथा पाचन संस्थान में फायदा करती है । इसकी तासीर भी गर्म होती है ।

त्रिफला अर्थात हरड़, बहेड़ा, आंवले का मिश्रण पाचन संस्थान पर अपना सकारात्मक प्रभाव डालती है ।

चित्रकमूल वात नाशक एवं कफ नाशक होती है, साथ ही पाचन संस्थान पर अपना सकारात्मक प्रभाव भी डालती है ।

नागरमोथा यह दवा रक्तचाप को नियंत्रित रखती है, तंत्रिका तंत्र को संतुलित रखती है, तथा शरीर से सभी प्रकार की सूजन को दूर करती है ।

बायविडंग यह कृमि नाशक तथा कफ रोगों को दूर करने वाली होती है ।
 
इन सभी औषधियों से संयुक्त होने के कारण मेदोहर गूगल मोटापे के अतिरिक्त अन्य बीमारियों में भी फायदा करती हैं ।
 

मेदोहर गुग्गुल के फायदे Medohar Guggulu Benefits in Hindi

 

मोटापा कम करने में सहायक मेदोहर गुग्गुल Medohar Guggulu benefits in obesity in hindi


मेदोहर गूगल का सबसे प्रमुख कार्य मोटापे को दूर करना होता है । इस दवा के नियमित सेवन से पेट की चर्बी धीरे-धीरे कम हो जाती है, जिससे मोटापा एवं वजन दोनों ही धीरे-धीरे कम हो जाते हैं ।

 

पाचन संस्थान के लिए लाभकारी मेदोहर गूगल Medohar Guggulu benefits for digestion in hindi

 
यद्यपि मेदोहर गूगल का प्रमुख कार्य मोटापा एवं वजन कम करना होता है, लेकिन जैसा कि हमने ऊपर पड़ा है कि मेदोहर गूगल में त्रिफला, त्रिकटु एवं अन्य ऐसी औषधियां होती हैं जो हमारे पाचन संस्थान के लिए भी बहुत ही फायदेमंद होती हैं । इसलिए मेदोहर गूगल का सेवन करने से पाचन संस्थान दुरुस्त हो जाता है । भूख लगने लगती है तथा अपच, पेट गैस, खट्टी डकार आना आदि जैसी समस्याएं भी दूर हो जाती हैं ।

 

ब्लड प्रेशर नियंत्रित रखने में लाभकारी मेदोहर गूगल Medohar Guggulu in blood pressure in hindi


मेदोहर गूगल में बायबिडिंग होने के कारण यह ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखती है, साथ ही इस दवा के सेवन करने से कोलेस्ट्रोल भी नियंत्रित रहता है ।

 

मेदोहर गूगल की मात्रा एवं सेवन विधि Medohar Guggulu dosage and directions of use


इस दवा की दो-दो गोली दिन में दो बार सुबह नाश्ते के बाद एवं रात को खाना खाने के पश्चात गर्म पानी के साथ ली जानी चाहिए । इस दवा को गर्म पानी के साथ ही सेवन करना चाहिए ।

 

मेदोहर गूगल प्रयोग करते समय सावधानियां Precuations while using Medohar Guggulu

  • मेदोहर गूगल की ज्यादा मात्रा का सेवन ना करें ।
  • इस दवा को किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में ही ले ।
  • पानी का खूब सेवन करें । दवा का सेवन करने के आधा घंटा पश्चात गर्म पानी का सेवन करें ।
  • जल्दी फायदा होने के लिए अपने भोजन में सलाद का सेवन करें ।
  • बाजार की तली भुनी चीजें जैसे बर्गर, टिक्की, छोले भटूरे एवं जंक फूड का सेवन ना करें ।
  • घी, मिठाई एवं चीनी से बनी हुई चीजों का कम से कम सेवन करें ।
  • 12 साल से कम उम्र के बच्चों को इस दवा का सेवन नहीं कराना चाहिए ।
  • गर्भवती महिलाओं को या जो महिलाएं गर्भावस्था में प्रवेश करने वाली हो ऐसी महिलाओं को इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए ।
  • यदि मासिक धर्म के समय ब्लीडिंग ज्यादा हो तो इस दवा का सेवन तुरंत बंद कर देना चाहिए ।
  • इस दवा में त्रिफला, त्रिकटु आदि दवाइयां होती हैं जिस कारण इस दवा की अधिक मात्रा लेने पर पाचन संस्थान में गड़बड़ी हो सकती है तथा दस्त भी लग सकते हैं,  इस बात का ध्यान रखें ।
  • इस दवा का प्रयोग किसी भी स्थिति में 3 महीनों से ज्यादा नहीं करना चाहिए ।
  • यह दवा शुगर को भी नियंत्रित रखती है इसलिए शुगर वाले रोगियों को इस दवा का सेवन करते समय अपना ब्लड शुगर नियमित रूप से चेक करते रहना चाहिए ।
  • इस दवा का सेवन करते समय अल्कोहल का सेवन ना करें ।
  • इस दवा का सेवन करते समय अपने आहार-विहार एवं दिनचर्या को सही रखें ।
  • समय पर भोजन खाएं, पानी खूब पिएं तथा प्रतिदिन योग एवं व्यायाम भी करते रहें जिससे आपको इस औषधि का पूरा लाभ मिल सकेगा ।
 

मेदोहर गूगल से संबंधित महत्वपूर्ण प्रश्न एवं उनके उत्तर Important questions and answers regarding Medohar Guggulu

 
क्या मेदोहर गूगल का सेवन करने से निश्चित रूप से वजन घट जाता है?
मेदोहर गूगल का सेवन करने से ज्यादातर मामलों में मोटापा एवं भजन घट जाता है । क्योंकि इस दवा के साथ-साथ आपको अपना आहार-विहार एवं दिनचर्या भी सही रखनी होगी । यदि आप एक और इस दवा का सेवन करते हैं तथा दूसरी ओर खूब तला भुना खाते हैं तो आपको लाभ नहीं होगा । लेकिन डाइटिंग प्लान बदलने के पश्चात भी यदि आपको इस दवा से लाभ ना हो तो आप किसी डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं । लेकिन ज्यादातर मामलों में इस दवा से फायदा होता है ।
 
 
क्या यह दवा सब लोगों पर एक जैसा प्रभाव डालती हैं?
जी नहीं प्रत्येक व्यक्ति की शारीरिक बनावट एवं उसका मेटाबोलिज्म अलग अलग होता है । इसलिए इस दवा का प्रभाव भी अलग-अलग लोगों में अलग अलग होता है ।
 
इस दवा को दिन में कितनी बार लिया जा सकता है?
इस दवा को आप दिन में दो बार गर्म पानी के साथ ले सकते हैं । ज्यादा समस्या होने पर दिन में 3 बार भी ले सकते हैं ।
 
क्या इस दवा को बच्चों को गर्भावस्था में एवं दूध पिलाने वाली माताओं को दिया जा सकता है?
इस प्रश्न का उत्तर है नहीं । यह दवा बच्चों को, गर्भवती महिलाओं को एवं दूध पिलाने वाली माताओं को नहीं देनी चाहिए ।
 
क्या पीरियड्स के दौरान इस दवा का सेवन कर सकते हैं?
सामान्यतः कर सकते हैं । लेकिन कभी-कभी इस दवा का सेवन करने से ब्लीडिंग ज्यादा हो जाती हैं । इसलिए पीरियड के दौरान इस दवा का सेवन करने से बचना चाहिए ।
 
यदि कोई महिला गर्भावस्था प्राप्त करने वाली है तो क्या ऐसी महिलाएं इस दवा को ले सकती हैं?
जी नहीं । इस दवा की तासीर गर्म होती है इसलिए इस दवा का सेवन नहीं करना चाहिए ।
 
मेदोहर गुग्गुल को आप amazon से market price पर ही नीचे दिए गए लिंक से मंगा सकते हैं 
 
बैद्यनाथ मेदोहर गुग्गुल को अभी आर्डर करने के लिए इस लिंक पर जाए और दवा को घर बेठे बेठे मंगाए । Product Link: Baidyanath Medohar Guggulu 120 Tablets

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *