मन्मथ रस के गुण उपयोग फायदे और नुकसान Manmath Ras ke fayde or nuksan

By | June 11, 2020

मन्मथ रस क्या है? Manmath Ras kya hai?

मन्मथ रस एक ऐसी आयुर्वेदिक औषधि है जो पुरुषों की स्तंभन शक्ति को इतनी अधिक बढ़ा देती है कि पुरुष कई कई स्त्रियों के साथ संभोग कर सकता है, फिर भी वह थकता नहीं है । मन्मथ रस का नाम मन्मथ इसलिए रखा गया है क्योंकि कामदेव को मन्मथ भी कहा जाता है ।

मन्मथ रस वास्तव में एक रसायन है जो पुरुष की काम शक्ति को बहुत अधिक बढ़ा देती है । इस औषधि का सेवन करने से वीर्य को रोकने वाली नाड़ियों में ताकत आती है, स्तंभन तथा कामेच्छा बहुत अधिक बढ़ जाती है ।

स्तंभन शक्ति अर्थात सेक्स पावर बढ़ाने वाली ज्यादातर औषधियों में कोई ना कोई नशीला पदार्थ जैसे अफीम इत्यादि का प्रयोग जरूर किया जाता है । लेकिन मन्मथ रस एक ऐसा आयुर्वेदिक रसायन है जिसमें किसी भी प्रकार का कोई नशीला पदार्थ प्रयोग नहीं किया जाता है ।

नोट: आपकी सुविधा के लिए हमने नीचे मन्मथ रस को मंगाने का Online Link दिया है । इस लिंक से इस Medicine को खरीदने पर आपको 15% तक का discount मिलेगा तथा Free Delivery की सुविधा भी मिलेगी । इस प्रकार इस दवा को आप घर बेठे बेठे मार्किट से भी कम price पर मंगा सकते हैं, वो भी बिना किसी extra charge के । इस दवा को आर्डर करने के लिए नीचे दिए गए लिंक से अभी Order दें ।

बैद्यनाथ मन्मथ रस को अभी आर्डर करने के लिए इस लिंक पर जाए और दवा को घर बेठे बेठे मंगाए ।

Product Link: Baidyanath Manmath Ras 40 Tablets

मन्मथ रस इन हिंदी Manmath Ras in hindi

इसके बावजूद मन्मथ रस को कामोद्दीपक, कामोत्तेजक एवं स्तंभक औषधि के रूप में सफलतापूर्वक सेवन किया जाता है । यह औषधि वीर्य का पतलापन दूर करती है एवं शीघ्रपतन को समूल नष्ट कर देती है ।

ऐसा नहीं है मन्मथ रस को केवल पुरुषों के द्वारा ही सेवन किया जाता है । बल्कि इस औषधि का सेवन स्त्री रोगों में भी किया जाता है । महिलाओं के मुख्य रोगों जैसे श्वेत प्रदर (लिकोरिया) एवं गर्भाशय की कमजोरी में इस औषधि का सेवन कराया जाता है । इस औषधि का सेवन करने से स्त्रियों की गर्भधारण करने की शक्ति बढ़ जाती है जिससे महिलाओं का बांझपन दूर हो जाता है ।

मन्मथ रस के घटक द्रव्य Manmath Ras ke ghatak dravy

  • 24 gram: अभ्रक भस्म
  • 12 gram: शुद्ध कर्पूर, वंग भस्म, लौह भस्म
  • 6 gram: ताम्र भस्म
  • Each: 3 gram विधारा रूट्स, जीरक, विदारीकन्द, शतावरी, तालमखाना, बालमुला, केवाँच बीज, अतीश, जावित्री, जायफल, लवंग, शुद्ध भांग बीज, राल सफ़ेद और अजवाइन

मन्मथ रस के चिकित्सकीय उपयोग Manmath Ras ke upyog in hindi

मन्मथ रस को निम्न रोगों के उपचार में सफलतापूर्वक प्रयोग किया जाता है ।

  1. स्वपनदोष
  2. शीघ्रपतन
  3. नपुंसकता
  4. वीर्य का पतलापन
  5. पेशाब में धातु का जाना
  6. वीर्य वाहिनी नाड़ियों की कमजोरी
  7. कामोत्तेजना की कमी
  8. लिंग पर छाले
  9. महिलाओं का लिकोरिया
  10. गर्भाशय की कमजोरी

मन्मथ रस के फायदे Manmath Ras ke fayde in hindi

  • मन्मथ रस मात्र औषधि नहीं है, बल्कि यह एक रसायन है । क्योंकि यह वीर्य वृद्धि करती है तथा सप्त धातुओं को पुष्ट करती है ।
  • इस रसायन का सेवन करने से शरीर बलवान होता है तथा यौन क्षमता में वृद्धि होती है ।
  • इसका सेवन करने से स्वप्नदोष, शीघ्रपतन एवं नपुंसकता दूर होती है ।
  • यह वीर्य के पतलेपन को दूर कर वीर्य को गाढ़ा करती है ।
  • इसका सेवन करने से वीर्य वाहिनी नाड़ियों में ताकत आती है जिससे पुरुष एक साथ कई स्त्रियों के साथ संभोग करने के लायक हो जाता है ।
  • यह औषधि खून की कमी को दूर करती है एवं शरीर में नया खून का निर्माण करती है ।
  • इस औषधि का सेवन करने से हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ जाता है ।
  • इसका सेवन करने से चेहरे पर नई रौनक और कांति आती है ।
  • यह वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या तथा शुक्राणुओं की क्वालिटी में सुधार करती है ।
  • इसका सेवन करने से लिंग का ढीलापन दूर होता है तथा लिंग में पर्याप्त तनाव बना रहता है ।
  • यदि लिंग पर छाले हो गए हो तो इस औषधि का सेवन करने से लाभ मिलता है ।

विशेष नोट: आजकल के समय में शीघ्रपतन की समस्या बहुत ज्यादा बढ़ गई है तथा लोग शीघ्रपतन को दूर करने के लिए बाजार से उटपटांग दवाइयों तथा ऑयल को लाकर उनका सेवन करते हैं, जिससे उन्हें फायदे की जगह उल्टा नुकसान ही होता है ।

यदि व्यक्ति आयुर्वेद का सही तरीके से अनुसरण करें और किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख में आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन करें तो उसे कभी भी भटकना नहीं पड़ेगा ।

यदि हम शीघ्रपतन की बात करें तो कपल्स का सेक्स टाइम ज्यादातर 2 मिनट से लेकर 5 मिनट तक होता है । इसलिए अगर आपका सेक्स टाइम 2 मिनट से 5 मिनट के बीच है तो आप शीघ्रपतन के रोगी नहीं है और ना ही आपको घबराने की जरूरत है । लेकिन यदि आपका सेक्स टाइम 2 मिनट से कम है या योनि में लिंग प्रवेश करते ही वीर्यपात हो जाता है तो निश्चित ही आप शीघ्रपतन के रोगी हैं ।

ऐसी स्थिति में मन्मथ रस को हिमालय कॉन्फीडो, न्यू टेंटेक्स फोर्ट एवं चंद्रप्रभा वटी के साथ सेवन करने से बहुत ज्यादा लाभ मिलता है । इसके साथ आप हमदर्द कंपनी का तिला डायनामोल का इस्तेमाल भी कर सकते हैं, जिससे लिंग की नसों में ताकत आती है तथा लिंग का टेड़ापन भी दूर हो जाता है । विलासी पुरुषों के लिए यह औषधि सर्वथा उपयुक्त है, क्योंकि इसका सेवन करने से काम शक्ति कई गुना बढ़ जाती है ।

मात्रा एवं सेवन विधि

इस औषधि की एक एक गोली सुबह-शाम भोजन के पश्चात गाढ़े किय हुए गर्म दूध के साथ लेने से अच्छा फायदा होता है । दूध में चीनी की जगह मिश्री मिलाने से ज्यादा फायदा मिलता है । अधिक जानकारी के लिए आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं ।

सावधानियां एवं दुष्प्रभाव

इस दवा को किसी योग्य चिकित्सक की देखरेख एवं सलाह के अनुसार ही लेना चाहिए । गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को इस औषधि का सेवन नहीं करना चाहिए ।

बैद्यनाथ मन्मथ रस को अभी आर्डर करने के लिए इस लिंक पर जाए और दवा को घर बेठे बेठे मंगाए ।

Product Link: Baidyanath Manmath Ras 40 Tablets

2 thoughts on “मन्मथ रस के गुण उपयोग फायदे और नुकसान Manmath Ras ke fayde or nuksan

  1. Rv singh

    Manmath tablet ke sath confido tab,tentexfort, chandraprabha bati teeno tablet sath lene hongi ya enme se koi bhi ek

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *