हिमालय डायबेकॉन टैबलेट के फायदे और नुकसान Himalaya Diabecon Uses & Benefits in Hindi

By | November 16, 2020

हिमालय डायबेकॉन टैबलेट क्या है?

हिमालय डाइबिकॉन टेबलेट हिमालय ड्रग कंपनी के द्वारा बनाई जाने वाली एक आयुर्वेदिक औषधि है जो मुख्य रूप से डायबिटीज अर्थात शुगर में सफलतापूर्वक प्रयोग की जाती है । यह एक OTC दवाई है जो डॉक्टर के पर्चे के बिना ही मिल सकती है । यह दवा टाइप 1 मधुमेह एवं टाइप 2 मधुमेह के इलाज के लिए प्रयोग की जा सकती हैं ।

यदि हम हिमालय डाइबिकॉन टेबलेट के बात करें तो इसमें विजयसार, गुड़मार एवं शिलाजीत जैसी जड़ी बूटियां मौजूद होती हैं जो इसकी गुणवत्ता को काफी बढ़ा देती हैं ।

हिमालय डाइबिकॉन के घटक द्रव्य

Diabecon की प्रत्येक गोली में शामिल हैं:

सामग्री Diabecon गोलियाँ Diabecon डीएस गोलियाँ
शुद्धा गुग्गुल 30 मिग्रा 60 मिग्रा
शुद्ध किया हुआ शिलाजीत 30 मिग्रा 60 मिग्रा
अर्क
मेशाशृंगी – जिमनेमा सिल्वेस्ट्रे 30 मिग्रा 60 मिग्रा
पीतासरा – पेरोकार्पस मार्सुपियम 20 मिग्रा 40 मिग्रा
मुलेठी ( यष्टिमधु ) – नद्यपान – ग्लाइसीराइज़ा ग्लबरा 20 मिग्रा 40 मिग्रा
सप्तरंगी – कैसरिया एस्कुलेंटा 20 मिग्रा 40 मिग्रा
जामुन (जम्बू) – सियाजियम क्यूमिन 20 मिग्रा 40 मिग्रा
शतावरी – शतावरी रेसमोसस 20 मिग्रा 40 मिग्रा
पुनर्नवा – बोहराविया डिफुसा 20 मिग्रा 40 मिग्रा
मुंडिका – स्पैरेन्थस संकेत 10 मिग्रा 20 मिग्रा
गुडूची – तिनपोस्पोरा कोर्डिफ़ोलिया 10 मिग्रा 20 मिग्रा
कैरेटा – स्वर्टिया चिरता 10 मिग्रा 20 मिग्रा
गोक्षुरा – ट्रिबुलस टेरेस्ट्रिस 10 मिग्रा 20 मिग्रा
भूमा अमलाकी – फेलैंथस अमारस 10 मिग्रा 20 मिग्रा
गम्भीरी – गमेलिना आर्बोरिया 10 मिग्रा 20 मिग्रा
करपासी – गोसेपियम हर्बेसम 10 मिग्रा 20 मिग्रा
दारूहल्दी (दारुहरिद्रा) – बर्बेरिस अरिस्टाटा 5 मिग्रा 10 मिग्रा
घृत कुमारी – एलो वेरा 5 मिग्रा 10 मिग्रा
त्रिफला 3 मिग्रा 6 मिग्रा
पाउडर
विदंगादि लौहम 27 मिग्रा ५४ मिग्रा
सुषवी (मोमोर्डिका चारेंटिया) 20 मिग्रा 40 मिग्रा
काली मिर्च (काली मारीच) – पाइपर निग्रम 10 मिग्रा 20 मिग्रा
तुलसी -अन्यतम गर्भगृह 10 मिग्रा 20 मिग्रा
भारतीय मल्लो (अतीबाला) – एबुतिलन इंडिकम 10 मिग्रा 20 मिग्रा
अभ्रक भस्म 10 मिग्रा 20 मिग्रा
प्रवाल भस्म 10 मिग्रा 20 मिग्रा
जंगली पलक – रुमेक्स मैरिटिमस 5 मिग्रा 10 मिग्रा
वंगा भस्म (बंग भस्म) 5 मिग्रा 10 मिग्रा
हल्दी (हल्दी) – करकुमा लोंगा 10 मिग्रा 20 मिग्रा
अकीक पिष्टी 5 मिग्रा 10 मिग्रा
शुद्ध किया हुआ शिंग्रफ़ 5 मिग्रा 10 मिग्रा
यशद भस्म 5 मिग्रा 10 मिग्रा
Trikatu 5 मिग्रा 10 मिग्रा

हिमालय डाइबिकॉन के औषधीय गुण

  1. मधुमेह विरोधी
  2. इंसुलिन का स्रावण
  3. Insulinomimetic
  4. Antihyperglycemic
  5. अल्फा-ग्लूकोसिडेस अवरोधक

हिमालय डाइबिकॉन के उपचारात्मक संकेत

  • पूर्व मधुमेह
  • NIDDM (टाइप 2 डायबिटीज) का नया पता चला
  • टाइप 1 मधुमेह – एक सहायक चिकित्सा के रूप में
  • मधुमेह संबंधी जटिलताएँ

हिमालय डाइबिकॉन के फायदे

  1. शुगर
  2. इंसुलिन प्रतिरोध
  3. टाइप 1 मधुमेह
  4. टाइप 2 मधुमेह

हिमालय डाइबिकॉन की सेवन विधि एवं मात्रा

हिमालय डाइबिकॉन टेबलेट को की एक से दो टेबलेट दिन में दो बार ली जा सकती है । अधिक जानकारी के लिए आप अपने से संपर्क कर सकते हैं ।

हिमालय डाइबिकॉन डीएस टेबलेट से संबंधित प्रश्न एवं चेतावनी

क्या Himalaya Diabecon Tablet का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

गर्भवती महिलाओं पर Himalaya Diabecon Tablets का असर क्या होगा इस बारे में कोई रिसर्च नहीं की गई है। इसलिए इसकी सही जानकारी मौजूद नही है।

क्या Himalaya Diabecon Tablet का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

कुछ समय से स्तनपान कराने वाली महिला को Himalaya Diabecon Tablets से किस तरह के प्रभाव होंगे, इस विषय पर किसी भी विशेषज्ञ का कोई मत नहीं हैं। इसलिए डॉक्टर से परार्मश के बाद ही इसका सेवन करें।

Himalaya Diabecon Tablet का पेट पर क्या असर होता है?

पेट के लिए Himalaya Diabecon Tablets हानिकारक नहीं है।

क्या Himalaya Diabecon Tablet का उपयोग बच्चों के लिए ठीक है?

Himalaya Diabecon Tablets का बच्चों पर कोई दुष्प्रभाव होता है इस बारे में कोई शोध मौजूद नहीं है, इसलिए इसका असर भी अज्ञात है।

क्या Himalaya Diabecon Tablet शरीर को सुस्त तो नहीं कर देती है?

नहींआप वाहन चला सकते हैं या कोई भारी मशीन से जुड़ा काम कर सकते हैं। क्योंकि Himalaya Diabecon Tablets लेने के बाद क्योंकि आपको नींद नहीं आएगी।

क्या Himalaya Diabecon Tablet का उपयोग करने से आदत तो नहीं लग जाती है?

नहींनहीं, इसका कोई प्रमाण नहीं है कि Himalaya Diabecon Tablets को लेने से आपको इसकी लत पड़ जाएगी। कोई भी दवा डॉक्टर से पूछ कर ही लें, जिससे कोई हानि न हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *