हिमालय अबाना टेबलेट के फायदे और नुकसान Himalaya Abana Tablets Uses and Benefits in Hindi

By | December 4, 2020

Himalaya Abana Tablets क्या है ?

Himalaya Abana Tablets हिमालय ड्रग कंपनी के द्वारा बनाई जाने वाली एक आयुर्वेदिक औषधि है जो मुख्य रूप से हाई कोलेस्ट्रॉल एवं हाई ट्राइग्लिसराइड्स के उपचार में प्रयोग की जाती है । यह दवा बढ़ती हुई उम्र में या गलत खान-पान के कारण कोलेस्ट्रोल बढ़ जाने एवं हृदय संबंधित समस्याओं में बहुत अच्छा लाभ पहुंचाती है ।

हिमालय अबाना टैबलेट में मुख्य जड़ी बूटियों के रूप में अर्जुन एवं गुग्गुल मौजूद होते हैं । अर्जुन एक जड़ी बूटी है जो हमारे शरीर में लिपिड एवं कोलेस्ट्रोल की मात्रा को नियंत्रित रखने में मददगार होती हैं ।

इसके अलावा अर्जुन का सबसे मुख्य कार्य हृदय विकारों को दूर करना भी होता है । अर्जुन हमारे हृदय के लिए बहुत फायदेमंद होती है । गुग्गुल भी अर्जुन की तरह ही हमारे शरीर में से लिपिड एवं कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को नियंत्रित रखने में मददगार होती है ।

Himalaya Abana Tablets के घटक द्रव्य

अर्जुन ( टर्मिनलिया अर्जुन ) और इंडियन बडेलियम (गुग्गुल) और शिलाजीत अबाना के तीन मुख्य घटक हैं। अबाना में कई अन्य सामग्रियां भी शामिल हैं, जो निम्नानुसार हैं:

INGREDIENT मात्रा
का अर्क: :
अर्जुन – टर्मिनलिया अर्जुन 30 मिग्रा
अश्वगंधा (भारतीय जिनसेंग) – विथानिया सोम्निफेरा 20 मिग्रा
बदरंज बोया – नेपेटा हिंदोस्ताना 20 मिग्रा
Dashmool 20 मिग्रा
गुडुची (गिलोय या हार्टलीफ मूनसीड) – तिनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया 10 मिग्रा
अमलाकी (आंवला या भारतीय आंवला ) 10 मिग्रा
हरिताकी या हरद (चेबुलिक मायरोबलन) – टर्मिनलिया चेबुला 10 मिग्रा
भृंगराज – ग्रहण अल्बा 10 मिग्रा
मुलेठी ( यष्टिमधु ) – नद्यपान – ग्लाइसीराइज़ा ग्लबरा 10 मिग्रा
शतावरी – शतावरी रेसमोसस 10 मिग्रा
पुनर्नवा (फैलते हुए हॉगवीड) – बोहराविया डिफुसा 10 मिग्रा
का पाउडर: :
शुद्धा गुग्गुलु 30 मिग्रा
शुद्ध शिलाजीत (डामर) 20 मिग्रा
मंडुकपर्णी (गोटू कोला) – सेंटेला एशियाटिक 10 मिग्रा
शंखपुष्पी – कन्वोल्वुलस प्लुरिकायुलिस 10 मिग्रा
तुलसी (पवित्र तुलसी) – Ocimum Sanctum 10 मिग्रा
जटामांसी (स्पाइकेनार्ड) – नारदोस्तैस जटामांसी 10 मिग्रा
पिप्पली (लंबी काली मिर्च) – पाइपर लौंगम 10 मिग्रा
यवानी (अजवाईन या कैरम सीड्स) – ट्रेकिस्पर्मम अम्मी (कैरम कोप्टिकम) 10 मिग्रा
Sunthi या Sonth (अदरक प्रकंद) – Zingiber Officinale 10 मिग्रा
नागपाशना भस्म (ज़हर मोहरा भस्म) 10 मिग्रा
शंख (शंख) भस्म 10 मिग्रा
Makardhwaj 10 मिग्रा
मस्तक (नट ग्रास) – साइपरस रोटंडस 5 मिग्रा
वचा (स्वीट फ्लैग) – एकोरस कैलमस 5 मिग्रा
विविडंग (झूठी काली मिर्च) – एम्बेलिया रिब्स 5 मिग्रा
Laung (लौंग) – Syzygium Aromaticum 5 मिग्रा
ज्योतिष्मती (मलकानगनी) – सेलास्ट्रस पनीकुलेटस 5 मिग्रा
सफ़ेद चंदन (सफ़ेद चंदन) – संताल एल्बम 5 मिग्रा
इलाची (हरी इलायची) – एलेटेरिया इलायची 5 मिग्रा
शतपुष्पा या सौनफ (सौंफ के बीज) – फोनेटिकुल वल्गारे 5 मिग्रा
सप्तपटिका (सेंटीफोलिया रोजेस) – रोजा सेंटिफोलिया 5 मिग्रा
तवकपट (चीनी दालचीनी) – दालचीनी कैसिया 5 मिग्रा
अभ्रक भस्म 5 मिग्रा
मुक्ता (मोती) पिष्टी 5 मिग्रा
अकीक पिष्टी 5 मिग्रा
व्योमश्मा पिष्टी (यशब पिष्टी) 5 मिग्रा
माणिक्य पिष्टी 5 मिग्रा
प्रवाल पिष्टी 5 मिग्रा
कुमकुमा या केसर (केसर) – क्रोकस सैटिवस 2 मिग्रा
में संसाधित: :
Abresham क्यूएस
गोजीहवा – ओनोसमा ब्रेक्टेटम क्यूएस
अमलाकी ( आंवला ) -एम्ब्लिका ऑफ़िसिनालिस क्यूएस
मंडुकपर्णी (गोटू कोला) – सेंटेला एशियाटिक क्यूएस
सतपत्री (दमक रोज) – रोजा दमिश्क क्यूएस
कमल (लोटस) – नेलुम्बो स्पीसीओसम क्यूएस
दादिमा या अनार (अनार) – पुनिका ग्रेनटम क्यूएस
सेवम (सेब) – पाइरस मालस क्यूएस
शंखपुष्पी – कन्वोल्वुलस प्लुरिकायुलिस क्यूएस
शतावरी – शतावरी रेसमोसस क्यूएस
कुमारी या घृतकुमारी या ग्वारपाठा – एलो वेरा क्यूएस
बदरंज बोया – नेपेटा हिंदोस्ताना क्यूएस
तुलसी (पवित्र तुलसी) – Ocimum Sanctum क्यूएस
शतपुष्पा या सौनफ (सौंफ के बीज) – फोनेटिकुल वल्गारे क्यूएस
उशीरा या ख़ास (वेटिवर) – वेटिवरिया ज़िज़ानियोइड्स क्यूएस
गरिजारा (गजर) – डकस कारोटा क्यूएस

उपचारात्मक संकेत

  1. हाइपरलिपिडिमिया (रक्त में ऊंचा लिपिड स्तर)
  2. डिस्लिपिडेमिया (रक्त में असामान्य लिपिड स्तर)
  3. हाइपरकोलेस्ट्रोलेमिया (उच्च कोलेस्ट्रॉल स्तर)
  4. उच्च रक्तचाप (हल्के से मध्यम उच्च रक्तचाप)
  5. एंजाइना पेक्टोरिस में सहायक (सहायक चिकित्सा)
  6. उच्च जोखिम वाले हृदय रोगों, सेरेब्रो-संवहनी रोगों और हृदय रोग (सीवीडी) के रोगियों में कार्डियो सुरक्षात्मक
  7. सेरेब्रोवास्कुलर और हृदय की स्थिति में प्लेटलेट एकत्रीकरण को बाधित करने के लिए

Himalaya Abana Tablets के फायदे

  • हिमालय अबाना एक कार्डियोप्रोटेक्टिव आयुर्वेदिक दवा है जो हृदय रोगों के लिए एक बेहतरीन विकल्प है ।
  • यह दवा रक्त में लिपिड के असामान्य स्तर अर्थात डिस्लिपिडेमिया तथा हाइपरलिपिडेमिया को दूर करने में मददगार होती हैं ।
  • यह दवा हाई कोलेस्ट्रॉल को कम करती हैं तथा इसे सामान्य रखने में मददगार होती हैं ।
  • यह दवा एलडीएल अर्थात बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करती है तथा रक्त में एचडीएल अर्थात गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को बढ़ाती है ।
  • यह दवा ट्राइग्लिसराइड के बड़े स्तर को सामान्य रखने में मददगार होती है ।
  • यह दवा ब्लड प्रेशर के स्तर को सामान्य रखने में मददगार होती है ।
  • इस दवा का सेवन करने से शरीर में रक्त का प्रवाह (ब्लड सरकुलेशन) सामान्य बना रहता है ।
  • इस दवा का यदि ब्लड प्रेशर की समस्या में प्रयोग किया जाए तो किसी एलोपैथिक दवा को लेने की आवश्यकता नहीं पड़ती है ।
  • यह दवा बिल्कुल प्राकृतिक तरीके से ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में मददगार होती है ।
  • आप जानते ही हैं कि जितनी भी दवाएं हैं उनके कुछ ना कुछ साइड इफेक्ट होते हैं, इसलिए ब्लड प्रेशर के लिए हिमालय अबाना को सुरक्षित रूप से प्रयोग कर सकते हैं क्योंकि इस दवा का किसी प्रकार का कोई साइड इफेक्ट नहीं है ।
  • यह दवा केवल ब्लड प्रेशर को नियंत्रित नहीं करती बल्कि ब्लड प्रेशर के कारण होने वाले कारणों को भी दूर करने में मददगार होती है ।
  • यह एक बेहतरीन कार्डियोप्रोटेक्टिव दवा है जो सभी प्रकार की हार्ट प्रॉब्लम्स के लिए प्रयोग की जाती है ।
  • यह दवा हृदय की धमनियों को मजबूत करती है तथा हार्ट ब्लॉकेज को कम करती है ।
  • जिन लोगों का दिल कमजोर होने के कारण घबराहट या बेचैनी होती है उनके लिए यह एक बेहतरीन दवा है ।
  • इस दवा को ब्लड प्रेशर कोलेस्ट्रोल एवं हाइपरटेंशन के लिए एक टॉनिक की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है ।
  • बहुत से लोग छोटी-छोटी बातों में चिंता करते हैं तथा घबराते रहते हैं क्योंकि इन लोगों का दिल कमजोर होता है । इस स्थिति में भी हिमालय अबाना बहुत फायदेमंद होती है ।
  • यह दवा हृदय को मजबूत करती है तथा बेवजह चिंता एवं घबराहट को दूर करती है ।

Himalaya Abana Tablets की मात्रा एवं सेवन विधि

  • हिमालय अबाना टैबलेट की 2-2 टेबलेट दिन में दो से तीन बार हल्के गर्म पानी से ले सकते हैं ।
  • जब ब्लड प्रेशर, कोलेस्ट्रोल एवं अन्य समस्याएं थोड़ी कम हो जाए तो आप इस दवा का सेवन करना कम कर दें तथा 1- 1 टेबलेट सुबह शाम ले सकते हैं ।
  • अधिक जानकारी के लिए अपने डॉक्टर से संपर्क करें ।

Himalaya Abana Tablets से संबंधित प्रश्न उत्तर

क्या Himalaya Abana Tablet का उपयोग गर्भवती महिला के लिए ठीक है?

Himalaya Abana के सुरक्षा व हानि पहुंचाने वाले प्रभावों के विषय में किसी तरह की कोई रिसर्च नहीं हुई है। इसलिए इस बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है, आप इस दवा के सेवन से पूर्व अपने डॉक्टर से सलाह लें।

क्या Himalaya Abana Tablet का उपयोग स्तनपान करने वाली महिलाओं के लिए ठीक है?

स्तनपान कराने वाली स्त्रियों पर Himalaya Abana के क्या प्रभाव होंगे। इस बारे में शोध कार्य न हो पान के चलते कुछ नहीं कहा जा सकता है। फिलहाल इसको लेने से पहले डॉक्टर से पूछना जरूरी है।

Himalaya Abana Tablet का पेट पर क्या असर होता है?

पेट पर Himalaya Abana के दुष्प्रभावों को लेकर वैज्ञानिक शोध न होने के कारण Himalaya Abana पेट के लिए सुरक्षित है या नहीं इस बारे में भी कोई जानकारी नहीं है।

क्या Himalaya Abana Tablet का उपयोग बच्चों के लिए ठीक है?

Himalaya Abana का बच्चों पर कोई दुष्प्रभाव होता है इस बारे में कोई शोध मौजूद नहीं है, इसलिए इसका असर भी अज्ञात है।

क्या Himalaya Abana Tablet का उपयोग शराब का सेवन करने वालों के लिए सही है

इसके बारे में फिलहाल कोई शोध कार्य नहीं किया गया है। सही जानकारी मौजूद न होने की वजह से Himalaya Abana का क्या असर होगा इस विषय पर अनुमान लगा पाना मुश्किल होगा।

क्या Himalaya Abana Tablet शरीर को सुस्त तो नहीं कर देती है?

अब तक इस बारे में कोई अध्ययन नहीं है कि Himalaya Abana लेने से नींद आने लगती है। इसलिए Himalaya Abana का आपके जगे रहने पर क्या असर होता है इस बारे में भी कोई जानकारी नहीं है।

क्या Himalaya Abana Tablet का उपयोग करने से आदत तो नहीं लग जाती है?

अब तक कोई वैज्ञानिक सबूत नहीं मिले हैं कि Himalaya Abana लेने पर इसकी आदत पड़ जाती है या नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *