चार मगज खाने के फायदे गुण उपयोग तासीर एवं साइड इफ़ेक्ट Char Magaz Seeds ke fayde evam nuksan

By | August 10, 2020

चार मगज क्या है? Char Magaz Seeds kya hai?

शायद आपने चार मगज का नाम तो कहीं ना कहीं सुना ही होगा । जिन लोगों के घरों में पढ़ने वाले बच्चे होते हैं या जो बच्चे कंपटीशन, इंजीनियरिंग या डॉक्टरी इत्यादि की तैयारी कर रहे होते हैं उनके माता पिता अक्सर अपने बच्चों के लिए पोस्टिक एवं दिमाग को ताकत पहुंचाने वाले व्यंजन बनाते रहते हैं । उन्हीं व्यंजनों में से एक व्यंजन है चार मगज । आज इस लेख में हम चार मगक के फायदे जानेंगे

चार मगज का अर्थ होता है 4 पोस्टिक बीच, जो मगज अर्थात दिमाग को ताकत प्रदान करते हैं । यह चार बीज होते हैं तरबूज, कद्दू, ककड़ी एवं रोकमेलन (कैंटालूप) के बीज । इन चारों फलों के बीजों को ही चार मगज कहा जाता है ।

ये एक प्रकार के ड्राई फ्रूट ही होते हैं जिन्हें मिठाइयों एवं पकवान में भी प्रयोग किया जाता है । चार मगज के लड्डू तो बहुत ही ज्यादा प्रसिद्ध है । पढ़ने लिखने वाले बच्चों को उनके माता-पिता ज्यादातर चार मगज के लड्डू ही बनाकर खिलाते हैं ।

चार मगज के लड्डू में चारों मगज के अलावा बदाम, अखरोट गिरी, किसमिस, काजू इत्यादि का प्रयोग भी किया जा सकता है जिससे यह लड्डू और ज्यादा पौष्टिक एवं दिमाग को ताकत प्रदान करने वाले बन जाते हैं । तो आइए चार मगज के बारे में विस्तार से जानते हैं ।

चार मगज में पाए जाने वाले पोष्टिक तत्व Char Magaz Seeds ke poshtik tatva in hindi

चार मगज में प्रोटीन, फैटी एसिड, विटामिन एवं खनिज भरपूर मात्रा में मौजूद होते हैं । यह सभी तत्व उत्तम स्वास्थ्य एवं मानसिक विकास के लिए बहुत ज्यादा आवश्यक होते हैं । यह सभी तत्व पूर्ण रूप से प्राकृतिक होते हैं । इसलिए चार मगज को सेवन करने पर मानसिक विकास बड़ी तेजी से होता है एवं जो बच्चे मानसिक कार्य करते हैं उनके लिए चार मगज अमृत के समान होते हैं ।

घर पर चार मगज कैसे बनाएं? Char Magaz kaise banaye?

यदि आप घर पर ही चार मगज या उससे बने हुए व्यंजन बनाना चाहते हैं तो यह बहुत ही आसान है । इसके लिए तरबूज के बीज, कद्दू के बीज, ककड़ी के बीज एवं रोकमेलान के बीज बराबर बराबर मात्रा में ले लीजिए । इनको धूप में सुखाकर इनका पाउडर बनाकर किसी एयर टाइट कंटेनर में रख लीजिए । अब आप इस पाउडर का उपयोग लड्डू बनाने में या कोई भी पकवान बनाने में कर सकते हैं ।

चार मगज के चिकित्सकीय उपयोग Char Magaz Seeds ke upyog in hindi

चार मगज को निम्न रोगों के उपचार में सफलता पूर्वक प्रयोग किया जा सकता है

  • बाल झड़ना।
  • नर्विन की कमजोरी।
  • विस्मृति।
  • स्मरण शक्ति की क्षति।
  • Blemishes।
  • कम दूध की आपूर्ति।
  • आंखों की कमजोरी – चार मगज + बादाम + सौंफ के बीज।
  • हृदय की कमजोरी।
  • जिगर के रोग।
  • शारीरिक कमजोरी।
  • शीघ्रपतन।
  • शिश्न की कमजोरी।
  • Leucorrhea।
  • फटा हील्स।
  • त्वचा की रंगत में सुधार।

चार मगज के फायदे Char Magaz Seeds ke fayde in hindi

आइए हम जानते हैं कि चार मगज का सेवन करने से कौन-कौन से फायदे होते हैं ।

मस्तिष्क को ताकत प्रदान करने वाले चार मगज

चार मगज का सबसे प्रमुख उपयोग मस्तिष्क को बल प्रदान करने के लिए किया जाता है । जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया जो लोक बहुत अधिक मानसिक श्रम करते हैं, जैसे डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, शिक्षक एवं विद्यार्थी, उन्हें मस्तिष्क को बल प्रदान करने के लिए विशेष टॉनिक की आवश्यकता होती है ।

ऐसे में ज्यादातर लोग शंखपुष्पी या ब्राह्मी वटी जैसी आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन करते हैं जो वास्तव में ही बहुत अच्छा कार्य करती हैं । लेकिन यदि हम चार मगज की बात करें तो इनकी तुलना किसी भी औषधि से नहीं की जा सकती । चार मगज मस्तिष्क को उत्कृष्ट शक्ति एवं ऊर्जा प्रदान करते हैं ।

चार मगज का सेवन करने से मस्तिष्क की नवीन कोशिकाओं का निर्माण होता है, मस्तिष्क के ऊतकों की मरम्मत होती है एवं मस्तिष्क में रक्त का प्रवाह सही मात्रा में होता है, जिससे व्यक्ति को मानसिक श्रम करने में बहुत आसानी हो जाती है । इसलिए हम आपको यही सलाह देंगे कि जो व्यक्ति या विद्यार्थी मानसिक श्रम करते हैं उन्हें चार मगज का सेवन अवश्य करना चाहिए ।

बालों के लिए फायदेमंद चार मगज

चार मगज में प्रोटीन, विटामिन एवं फैटी एसिड जैसे तत्व मौजूद होते हैं जो बालों के लिए बहुत अधिक फायदेमंद होते हैं । यदि किसी व्यक्ति को बाल झड़ने, टूटने एवं रूखे बालों की समस्या हो तो उन्हें चार मगज का सेवन अवश्य करना चाहिए ।

यदि बाल बहुत अधिक झड़ते या टूटते हो तो चार मगज का सेवन करते रहें एवं साथ में आंवले का मुरब्बा खाना खाने के पश्चात नियमित रूप से दिन में दो बार लेते रहे । इससे भी बालों की समस्याओं में बहुत अधिक लाभ मिलता है ।

वजन बढ़ाने में लाभदायक चार मगज

चार मगज में फैटी एसिड एवं कैलोरी पर्याप्त मात्रा में मौजूद होती है । यदि चार मगज को सूखे नारियल, देसी घी, बदाम, खोवा इत्यादि के साथ मिलाकर पकवान बनाया जाए एवं उसका सेवन किया जाए तो 2 से 3 महीने में ही कमजोरी दूर हो जाती है एवं वजन बढ़ना शुरू हो जाता है । जो लोग अपना वजन बढ़ाना चाहते हैं उन्हें चार मगज से बने हुए पकवानों का सेवन अवश्य करना चाहिए ।

त्वचा सौंदर्य के लिए लाभदायक चार मगज

चार मगज में ओलिक एसिड एवं लिनोलियम एसिड जैसे फैटी एसिड प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं । यही कारण है कि चार मगज का सेवन करने से त्वचा में एक अलग ही निखार आता है । चार मगज शरीर में मौजूद फ्री रेडिकल्स को भी दूर करते हैं जिससे बढ़ती हुई उम्र के कारण त्वचा में झुर्रियां आ जाना एवं त्वचा का ढीलापन भी दूर होता है ।

त्वचा सौंदर्य के लिए आप चार मगज को खा भी सकते हैं एवं चार मगज के तेल को त्वचा पर लगा भी सकते हैं । चार मगज का तेल आपकी त्वचा को मोस्चर प्रदान करता है एवं आपकी त्वचा को नरम बनाने में मदद करता है ।

यौन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक चार मगज

चार मगज के बीजों में ऑर्जीनिन नामक एमिनो एसिड मौजूद होता है जो पुरुषों की यौन समस्याओं को दूर करने में लाभदायक होता है । इसके अलावा इन बीजों में लाइकोपीन नामक रसायन भी मौजूद होता है जो वीर्य में शुक्राणुओं की संख्या एवं उनकी क्वालिटी को सही रखा है ।

डायबिटीज में लाभकारी चार मगज

चार मगज को डायबिटीज अर्थात शुगर की समस्या को दूर करने के लिए प्रयोग किया जाता है । लेकिन डायबिटीज के लिए चार मगज को प्रयोग करने की विधि कुछ अलग है । इसके लिए चार मगज या इससे बने पकवानों का सेवन ना करें अन्यथा डायबिटीज की समस्या और बढ़ सकती है ।

दो चम्मच चार मगज का चूर्ण लें तथा उन्हें 1 लीटर पानी में तब तक उबालें जब तक पानी एक चौथाई ना रह जाए । इसके बाद इस पानी को गुनगुना होने पर चाय की तरह पी जाय ।

हृदय के लिए लाभदायक चार मगज

चार मगज हमारे हृदय के लिए बहुत अधिक लाभदायक होते है । इन बीजों में एमिनो एसिड मौजूद होता है । एमिनो एसिड को हमारा शरीर नहीं बना सकता, यह हमें प्राकृतिक रूप से खाद्य पदार्थों से ही लेना पड़ता है । एमिनो एसिड में आर्जिनिन, ट्रिप्टोफैन, ग्लूटामिक एसिड और लाइसिन होता है जो हमारे हृदय के लिए बहुत अच्छे होते हैं । ओमेगा 3 फैटी एसिड हमारे ह्रदय की जटिल समस्याओं को दूर करने मददगार होता है ।

पोषक तत्वों का स्रोत है चार मगज

चार मगध के बीजों में फैटी एसिड, प्रोटीन, विटामिन, खनिज लवण, नियासिन, राइबोफ्लेविन, थियामिन, विटामिन बी 6,  पैंटोथेनिक एसिड, नियासिन, राइबोफ्लेविन, थियामिन जैसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं । इसके अलावा इन बीजों में मैग्निशियम, कैलशियम एवं कोपर जैसे तत्व मौजूद होते हैं । इस प्रकार हम कह सकते हैं की चार मगज सेवन करने से हमारे शरीर का चहुमुखी विकास होता है ।

चार मगज की मात्रा एवं सेवन विधि

आप अपनी दैनिक खुराक में 10 ग्राम से 30 ग्राम तक चार मगज के चूर्ण को शामिल कर सकते हैं । चार मगज के पाउडर को आप दूध के साथ ले सकते हैं या व्यंजन बनाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं, जैसे चार मगज के लड्डू, हलवा या खीर आदि ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *