ब्रहथ त्रिफला चूरनम के फायदे उपयोग एवं साइड इफ़ेक्ट Bruhath Triphala Choornam Uses Benefits & Side Effects in Hindi

By | August 13, 2020

ब्रहथ त्रिफला चूरनम क्या है? Bruhath Triphala Choornam kya hai?

ब्रहथ त्रिफला चूरनम एक आयुर्वेदिक औषधि है जो मुख्य रूप से पाचन तंत्र के रोगों में प्रयोग की जाती हैं । जैसा कि इस औषधि के नाम से ही पता चलता है कि यह औषधि त्रिफला चूर्ण का ही एक अलग रूप है । इस चूर्ण को दक्षिण भारत की प्रसिद्द कम्पनी Vaidyaratnam के द्वारा बनाया जाता है ।

ब्रहथ त्रिफला चूरनम में त्रिफला के अतिरिक्त कुछ अन्य जड़ी बूटियां भी मौजूद होती हैं जिस कारण इस चूर्ण को ब्रहथ त्रिफला चूरनम कहा जाता है । यह जड़ी बूटियां होती हैं मुलेठी एवं सनाय पत्ती । इस प्रकार ब्रहथ त्रिफला चूरनम सामान्य त्रिफला चूर्ण से ज्यादा प्रभावी होता है ।

ब्रहथ त्रिफला चूरनम कब्ज, पेट गैस, पेट फूलना, पेट का भारी होना, बवासीर, अजीर्ण, अग्निमांद्य जैसी समस्याओं में बहुत अच्छा लाभ पहुंचाती है । आइए ब्रहथ त्रिफला चूरनम के बारे में विस्तार से जानते हैं ।

ब्रहथ त्रिफला चूरनम के घटक द्रव्य Bruhath Triphala Choornam ingredients in hindi

ब्रुहथ त्रिफला चूर्णम में त्रिफला चूर्ण (अमलाकी, बिभीतकी और हरिताकी) और स्नाय पत्ती पाउडर और मुलेठी चूर्ण सामग्री सहित 5 तत्व शामिल हैं ।

अमलाकी ( आंवला ) – Emblica Officinalis 20%
बिभीतकी – टर्मिनलिया बेलिरिका 20%
हरिताकी – टर्मिनलिया चेबुला 20%
मुलेठी या यष्टिमधु – ग्लायसीर्रिजा ग्लबरा 20%
साने या स्वर्ण पत्री (भारतीय सेना) – कैसिया अंगुस्टिफोलिया 20%

ब्रहथ त्रिफला चूरनम के औषधीय गुण Bruhath Triphala Choornam properties in hindi

ब्रहथ त्रिफला चूरनम में निम्न औषधीय गुण मौजूद होते हैं ।

  • रेचक
  • हल्का एंटासिड
  • एंटीऑक्सीडेंट
  • विरोधी भड़काऊ (हल्के)
  • जीवाणुरोधी
  • adaptogenic
  • कैंसर विरोधी
  • कामिनटिव
  • emmenagogue
  • वसा दाहक

ब्रहथ त्रिफला चूरनम के चिकित्सक संकेत Bruhath Triphala Choornam uses in hindi

ब्रुहथ त्रिफला चूरनाम का प्राथमिक संकेत कब्ज है। कब्ज के अलावा, यह निम्नलिखित स्वास्थ्य स्थितियों में भी राहत प्रदान करता है:

  1. बवासीर
  2. पेट फूलना और आंतों में गैस
  3. सूजन या पेट में गड़बड़ी

ब्रहथ त्रिफला चूरनम के उपयोग एवं फायदे Bruhath Triphala Choornam benefits in hindi

ब्रहथ त्रिफला चूरनम छोटी आत एवं बड़ी आत, दोनों से ही संबंधित रोगों को नष्ट कर देता है । इस चूर्ण का उपयोग पाचन तंत्र के रोगों के अतिरिक्त वजन घटाने के लिए भी किया जाता है । इस चूर्ण के निम्न फायदे होते हैं ।

कब्ज में लाभकारी Uses in Constipation in hindi

इस चूर्ण का सबसे प्रमुख उपयोग कब्ज को दूर करना होता है । इस चूर्ण में त्रिफला के अतिरिक्त मुलेठी एवं स्नायपत्ती मौजूद होती हैं जो बड़ी आत में जमे हुए मल को शरीर से बाहर निकालने में मदद करती है । यह चूर्ण पुरानी कब्ज के लिए बहुत ही उत्तम है । पुरानी कब्ज में इस चूर्ण को रात को सोते समय गर्म पानी से एक चम्मच लेने से लाभ मिल जाता है ।

बवासीर में लाभदायक Uses in piles in hindi

ब्रहथ त्रिफला चूरनम बवासीर में बहुत अच्छा फायदा पहुंचाता है । बवासीर रोग में रोगी की गुदा में एवं गुदा के बाहर मस्से हो जाते हैं जिनमें दर्द होता है एवं रक्त भी आता है । बवासीर रोग मुख्य रूप से कब्ज के कारण होता है ।

ब्रहथ त्रिफला चूरनम मल को नरम करने में मदद करता है और कब्ज को दूर कर देता है, जिससे बवासीर में लाभ मिलता है । सूखी बवासीर में इस चूर्ण को कांकायन वटी के साथ एवं खूनी बवासीर में अर्शोघ्नी वटी के साथ लेने से लाभ मिलता है । अर्शोघनी वटी ना हो तो बोलबद्ध रस का प्रयोग भी किया जा सकता है ।

पेट फूलना एवं पेट गैस में लाभकारी ब्रहथ त्रिफला चूरनम Uses in Stomach Problems in hindi

ब्रहथ त्रिफला चूरनम पेट गैस को दूर करता है एवं पेट फूलने की समस्या में लाभ पहुंचाता है । पेट फूलना एवं आंतों में गैस बनने की स्थिति में इस चूर्ण को आरोग्यवर्धिनी वटी एवं लहशुनादी वटी के साथ सेवन करने से बहुत अच्छा लाभ मिलता है ।

सेवन विधि एवं मात्रा

ब्रहथ त्रिफला चूरनम को एक एक चम्मच सुबह शाम गर्म पानी के साथ भोजन के पश्चात लेना चाहिए ।

सावधानियां एवं दुष्प्रभाव

निर्धारित मात्रा में एवं चिकित्सक के परामर्श अनुसार सेवन करने पर इस औषधि का कोई दुष्प्रभाव नहीं है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *